DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मधुमेह व रक्तचाप के मरीजों का सर्वे करेगा आईएमए

आईएमए के नवनिर्वाचित पदाधिकारी ने लिया पदभार, लिये संकल्पआईएमए चला गांव की ओर कार्यक्रम होगा, हर माह एक गांव में लगेगा कैंपआईएमए में हर रविवार को टीकाकरण कैंप लगेगा, वैज्ञानिक सत्र चलेगाभागलपुर। कार्यालय संवाददाताइस साल इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) गांवों की ओर जाएगा। हर माह कम से कम एक गांव का आईएमए से जुड़े डॉक्टरों की टीम दौरा करेगी। वहां रविवार को नि:शुल्क स्वास्थ्य जांच शिविर लगेगा। साथ ही मुफ्त में दवा बांटी जाएंगी। इसके अलावा गांव की अन्य समस्याओं के समाधान की दिशा में भी पहल होगी।

इसके अलावा जिलेभर के डायबेटीज एवं ब्लड प्रेशर के मरीजों का सर्वेक्षण किया जाएगा। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र एवं अतिरिक्त स्वास्थ्य केंद्र के कंपाउंडर को बीपी जांच के लिए प्रशिक्षित किया जाएगा। साथ ही पीएचसी में ब्लड प्रेशर की दवा उपलब्ध कराने के लिए सिविल सर्जन से बात की जाएगी। ये बातें आईएमए के नवनिर्वाचित अध्यक्ष डा. डीपी सिंह ने शुक्रवार को कही। मौका था आईएमए के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के पदभार ग्रहण समारोह का।

उन्होंने कहा कि बिहार में दो करोड़ लोग बीपी से पीडिम्म्त है। इसलिए भागलपुर में इन मरीजों की संख्या जानने के लिए सर्वे होगा। साथ ही आईएमए एक बार फिर पुरानी परंपरा के मुताबिक हर रविवार को बच्चों के लिए टीकाकरण अभियान चलाएगा। साथ ही नि:शुल्क मेडिकल कैंप आईएमए हॉल में लगेगा। पांच जनवरी की सुबह आठ से दस बजे तक स्वास्थ्य कैंप लगाया जाएगा। डा. आरएन झा ने कहा कि सरकार नर्सिग होम कानून अगर लागू होगा तो इससे परेशानी बढ़ेगी।

इसलिए इस दिशा में आईएमए को विचार करने की जरूरत है। इसके पूर्व पुरानी कार्यकारिणी ने नई कार्यकारिणी को कार्यभार सौंपा। पूर्व सचवि ने वर्तमान सचवि और पूर्व अध्यक्ष ने वर्तमान अध्यक्ष को माला पहनाकर स्वागत किया। इसके बाद पूर्व सचवि डा. बिहारी लाल ने आईएमए के सालभर के कार्यो के बारे में विस्तार से बताया। उन्होंने कहा कि आईएमए ने हर माह कार्यक्रम किया। तीन स्वास्थ्य केंद्रों में यहां से डॉक्टर शामिल हुए। स्वास्थ्य सप्ताह के साथ वैज्ञानिक सेमिनार का भी आयोजन किया गया।

स्कूली बच्ची की सड़क दुर्घटना की मौत के बाद डॉक्टरों ने मानव श्रृंखला बनाकर घटना के प्रति नाराजगी जताई थी। इसके अलावा भी कई कार्यक्रम किए गए थे। वैज्ञानिक सत्र की पूर्व सचवि डा. प्रतिभा संह ने भी सालभर के कार्यो से संबंधित प्रतविेदन पढ़ा। इसके बाद चलो गांव की ओर कार्यक्रम के लिए ग्रामीण क्षेत्र मेडिकल कैंप समिति गठित की गई, इसका अध्यक्ष डा. एसपी सिंह को बनाया गया। संचालन डा. बिहारी लाल ने किया। जबकि धन्यवाद ज्ञापन डा. रोमा यादव ने किया।

इस मौके पर डा. एसएन झा, डा. आरएन झा, डा. एसडी गुप्ता, डा. संदीप लाल, डा. राजीव सिन्हा, डा. अजय सिंह, डा. संजय सिंह, डा. वसुंधरा लाल, डा. राजीव लाल सहित कई डॉक्टर मौजूद थे। आईएमए के नवनिर्वाचित पदाधिकारीअध्यक्ष - डा. डीपी सिंहसचवि - डा. जेपी सिन्हाउपाध्यक्ष - डा. अतुल मलिक, डा. निरंजन मिश्र, डा. बीके जायसवालवैज्ञानिक सत्र अध्यक्ष - डा. हेमशंकर शर्मावैज्ञानिक सत्र सचवि - डा. लीना नायर लालस्वास्थ्य सप्ताह अध्यक्ष - डा. मृत्युंजय कुमारस्वास्थ्य सप्ताह सचवि - डा. आरपी जायसवालग्रामीण स्वास्थ्य जांच कैंप समिति अध्यक्ष - डा. एसपी सिंहकोषाध्यक्ष - डा. अरशद अहमदं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मधुमेह व रक्तचाप के मरीजों का सर्वे करेगा आईएमए