DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

शोले की कुछ चिंगारियां

शोले की कुछ चिंगारियां

शुरू में फिल्म का नाम ‘एक दो तीन’ व ‘मेजर साहब’ रखा गया था। आधी शूटिंग के बाद ‘शोले’ कर दिया गया।

सीन को परफेक्ट बनाने के लिए विदेश से टेक्नीशियनों को बुलाया गया था। ये वो टीम थी, जिसने शॉन कॉनरी की बांड फिल्मों में काम किया था।

गब्बर सिंह का किरदार एक असली डाकू पर आधारित था, जिसका नाम भी गब्बर था। गब्बर के बोलने-चलने का तरीका, उसकी भाषा, सब कुछ असली गब्बर से लिया गया था। कहा जाता है कि असली गब्बर भी गांव के लोगों में डर पैदा करने के लिए शरीर के अलग-अलग अंगों को काट देता था।

फिल्म का मशहूर गीत महबूबा महबूबा.. जिसमें हेलन ने काम किया था, उसे आर के स्टूडियो में फिल्माया गया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:शोले की कुछ चिंगारियां