DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब डाक विभाग देगा कैशआन डिलीवरी सुविधा

वक्त के साथ कदम ताल करते हुए डाक विभाग ने ई-कामर्स के दौर में पार्सल सेवाओं पर भी अपना ध्यान केन्द्रित किया है।

आज के दौर में टीवी पर उत्पाद बेचने वाले कई चैनल चल रहे हैं जिससे पार्सल के कारोबार में काफी वृद्धि हुई है। ऐसे में डाक विभाग ने आनलाइन शापिंग के बढ़ते चलन के मद्देनजर बिजनेस पार्सल सेवा की शुरुआत की है।

इलाहाबाद परिक्षेत्र के निदेशक डाक सेवाएं कृष्ण कुमार यादव नेबताया कि बिजनेस पार्सल सेवा केवल थोक ग्राहकों के लिये ही है और यह एक प्रकार की संविदा संबंधी सेवा है जो कि कॉरपोरेट ग्राहकों की आवशयकता के अनरू प बनाई गयी है।

यादव ने बताया कि डाक विभाग साधारण और रजिस्टर्ड पार्सल सेवाएं देता है जिसमें अधिकतम चार और 20 किलोग्राम तक के पार्सल बुक कराये जा सकते हैं। पर बिजनेस पार्सल सेवा के तहत न्यूनतम दो किलो एवं अधिकतम 35 किलोग्राम तक के पार्सल बुक कराये जा सकते हैं और देश भर में कहीं भी भेजे जा सकते हैं।

डाक निदेशक यादव के अनुसार बिजनेस पार्सल सेवा का उद्देश्य देश में विश्वसनीय एवं दूरदराज ग्रामीण इलाकों तक भी कम लागत में शीघ्र वितरण सेवा देकर ई-कामर्स बाजार को बढा़वा देना है। बिजनेस पार्सल सेवा धरातल पर तेज, सुरक्षित और सस्ता परिवहन उपलब्ध करायेगी। यह सेवा कैश अन डिलीवरी सेवा हैं जोकि आज की ई-वाणिज्य सेवा के लिए एक अपेक्षित शर्त है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:अब डाक विभाग देगा कैशआन डिलीवरी सुविधा