DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पत्नी ने शव को अकेले किया था तीन टुकड़ा

बगोदर धर्मेन्द्र पाठक। अपना ही सुहाग महिला वे खुद से उजाड़ लिया। इस विभत्स घटना से बगोदर के पोखरिया व डुमरी के लक्ष्मणटुंडा सहित पूरे बगोदरवासी हतप्रभ हैं। घटना का खुलासा होने के दूसरे दिन शुक्रवार को पोखरिया गांव में सन्नाटा पसरा था। इक्के-दुक्के लोग दैनिक कार्यों के नबिटारे में जुटे थे। मृतक के घर पर सन्नाटा पसरा था। उसके घर में उसकी 70 वर्षीय मां के अलावा कोई नहीं था। वह अकेले घर पर पड़ा-पड़ा बेटा के मरने के गम में बिलख रही थी।

बेटा के मरने का गम और भूख दोनों उसे सता रही थी। घटना के बावत पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि बेटवा तो मयर गलैय अब हमरा खनवा के देतै। बताती हैं कि गुरुवार से वह भूखी-प्यासी घर पर अकेली है। मृतक प्रसादी पंडित पेशे से राजमिस्त्री का काम करता था। दबी जुबान में ग्रामीणों ने कहा कि पैसा वह खूब कमाता था और शराब भी खूब पीता था। उसके घर में पति और पत्नी के बीच अनबन बराबर होता रहता था।

बताया जाता है कि मृतक की तीन संतान है जिसमें दो बेटी और एक बेटा। इसमें बड़ी बेटी की शादी भी हो चुकी है। घटना के बाद मृतक के परिजन शुक्रवार को बगोदर थाना परिसर पहुंच कर मृतक की पत्नी धनेश्वरी देवी को कोस रहे थे। आरोपी पत्नी ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि मरने के बाद वह पति के शव को दूसरे दिन अकेली ही तीन टुकड़ो में कर उसे बोरा में भर दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पत्नी ने शव को अकेले किया था तीन टुकड़ा