DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

ऐसा पुल जहां आदमी पर भी लगता है टैक्स

ैमूर में एक ऐसा पुल है, जहां आदमी के आने-ााने पर भी टैक्स लगता है। दुर्गावती प्रखंड में नुआंव गांव के समीप ककरैत घाट पर ह्यूम पाइप पर ईंट के टुकड़े व मिट्टी डालकर कच्चा पुल बना है। इस पुल से लोग यूपी के गाजीपुर व गोरखपुर होते हुए नेपाल की सीमा पर स्थित नौतनवां तथा उत्तर प्रदेश के सीमावर्ती जमानियां व चंदौली जिले में जाते हैं। यह रास्ता सिर्फ नवम्बर से जून माह तक ही चालू रहता है। बरसात में बाढ़ के कारण आवाजाही संभव नहीं हो पाता है, तब ग्रामीण नाव के सहार नदी पार कर यूपी के बाजारों में जाते हैं।ड्ढr ड्ढr ग्रामीण मनोज कुमार सिंह व अब्दुल रााक अंसारी ने घाट के समीप लगे बोर्ड की ओर इशारा करते हुए कहा कि पढ़ लीजिए। बोर्ड पर लिखे गए शुल्क के अनुसार बड़ी गाड़ी का 60, ट्रैक्टर का 25, बैलगाड़ी का पांच और आदमी को इस घाट से जाने के लिए एक रूपया टैक्स देना पड़ता है। गांव के आसपास के व्यवसायियों ने बताया कि स्थायी पुल नहीं बनने से उनका व्यवसाय प्रभावित होता है। ग्रामीण आनंद सिंह व सुरंद्र सिंह ने बताया कि 12 से 15 लाख रूपए में इस घाट की नीलामी होती है। स्थानीय विधायक व पूर्व मंत्री ने एक सभा में कहा था कि कैमूर में अगर कोई पुल बनेगा तो ककरैत घाट का नम्बर पहला होगा। राजस्व की अच्छी वसूली व मंत्री की घोषणा के बाद भी यहां पुल नहीं बन सका।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: ऐसा पुल जहां आदमी पर भी लगता है टैक्स