DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

हत्यारोपी सलमान ने घर में छिपा रखे थे पांच लाख

आगरा। प्रमुख संवाददाता

बसपा के पूर्व विधायक जुल्फिकार अहमद भुट्टे के चचेरे भाई इमरान के हत्यारोपी सलमान से पांच लाख की बरामदगी हुई है। हरीपर्वत पुलिस ने गुरुवार को उसे कस्टडी रिमांड पर लिया गया था। हत्याकांड के बाद उसके हिस्से में दस लाख रुपये आए थे। पांच लाख रुपये पुलिस से बचकर भागने के चक्कर में खर्च हो गए थे। पांच लाख रुपये उसने अपने घर में छिपा रखे थे। क्या थी घटनाकटरा उमर, ताजगंज निवासी 19 वर्षीय इमरान पुत्र हाजी सलीम तीन दसिंबर की शाम रहस्यमय तरीके से गायब हुआ था।

वह पूर्व विधायक की छलेसर स्थित मीट फैक्टरी में लेन-देन का काम करता था। दोपहर में संजय प्लेस स्थित आईसीआईसीआई बैंक से उसने बीस लाख रुपये निकले थे। कैश लेकर मारुति से वह मीट फैक्टरी जा रहा था। इमरान का शव पांच दसिंबर को एत्मादपुर क्षेत्र में चौगान के जंगल में मिला था। पुलिस ने उसी दिन हत्याकांड का खुलासा किया था। वजीरपुरा निवासी इमरान के भाई के साले भोलू को जेल भेजा गया था। कागारौल निवासी सलमान भाग गया था।

उसने कोर्ट में समर्पण किया था। कारोबारी बनना चाहता था सलमानसलमान को पुलिस ने कस्टडी रिमांड पर लिया था। उसने पुलिस को बताया कि उसे कारोबारी बनना था। पैसे चाहिए थे। भोलू की बातों में आ गया। उन्हें उम्मीद थी कि इमरान के पास कम से कम एक करोड़ रुपये होंगे। उस दिन वह महज बीस लाख रुपये लेकर निकला था। उसके हिस्से में दस लाख रुपये ही आए थे। हत्या के बाद रकम देखी थी। पहले पता होता कि रकम कम है तो हत्या नहीं करते।

अब वह फंस गया है। जिंदगी बर्बाद हो गई। पांच लाख खर्च कर चुका था। शेष रकम घर में छिपाकर कर रखी थी। ठोस सबूत हैंइंस्पेक्टर हरीपर्वत सुरेंद्र सिंह का कहना है कि हत्याकांड के बाद आरोपियों के कब्जे से पंद्रह लाख रुपये की कैश रिकवरी हुई है। पिस्टल और चाकू बरामद हैं। सर्विलांस लोकेशन मैच कर गई है। गाड़ी पर फिंगर प्रिंट मिल गए हैं। पुलिस के पास हत्यारोपियों के खिलाफ ठोस सबूत हैं। उन्हें सजा मिलना तय है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:हत्यारोपी सलमान ने घर में छिपा रखे थे पांच लाख