DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खदेड़े गए दुकानदार शुरू हुई बैरिकेडिंग

आखिरकार पटना जंक्शन प्रशासन की नींद टूटी और उसने भी गंदगी, गड़बड़ी और अवैध पार्किंग के खिलाफ अभियान में शनिवार को अपनी मौजूदगी दर्ज कराई। रल अधिकारियों के साथ आरपीएफ दस्ते ने आरएमएस जाने के रास्ते में मोड़ पर बनाये गये चाय दुकान को ध्वस्त करने के साथ ही आसपास खड़े दर्जन भर फूटपाथी दुकानदारों को खदेड़ दिया। टमटम पड़ाव के पिछवाड़े किये गये अतिक्रमण को भी हटाया गया।इधर टिकट-आरक्षण काउंटर के टमटम पड़ाव की ओर निकलने वाले प्रवेश द्वार के पोर्टिको के बाहर लोहे की बेरिकेडिंग होने लगी है। इसे वहां अवैध तरीके से वाहनों की पार्किंग पूरी तरह खत्म हो जायेगी। इस कदर लोहे के रॉडों की घेराबंदी की जा रही है ताकि पोर्टिको के अंदर पैदल छोड़ कर साइकिल-मोटरसाइकिल भी नहीं जा सके। समझा जाता है कि अगले महीने के पहले सप्ताह में फिर निरीक्षण के लिए जीएम के पटना जंक्शन आने की खबर से चाक-चौबंद तैयारी अभी से ही शुरू हो गई है। बहरहाल जंक्शन के प्लेटफॉर्म संख्या एक पर पीली लाइन से डिमार्केशन तो कर दिया गया है जबकि मुख्य पार्किंग स्थल में सूचना पट्ट या अन्य आवश्यक बेरिकेटिंग का इंतजाम होना अब भी बाकी है। बीमारियों की रोकथाम पर शोध प्रस्तुतड्ढr पटना (हि.प्र.)। रल के इतिहास में पहली बार पमूर और इंडियन मेडिकल सर्विस एसोसिएशन द्वारा आयोजित दो अनवरत चिकित्सा शिक्षा कार्यक्रम (सीएमई) में दर्जनों विशेषज्ञों ने ‘जीवन शैली जनित बीमारियों’ की रोकथाम और इलाज पर शोध-पत्र प्रस्तुत किया। मधुमेह, मोटापा, उच्च रक्तचाप, कमरदर्द और अस्यिोपरोसिस जैसी बीमारियों की विस्तृत जानकारी रलवे के चिकित्सकों ने ली। पूमर के मुख्य चिकित्सा निदेशक डा.वी.जे.महाडिक, आयोजन समिति के अध्यक्ष डा.मदन दुबे और दानापुर के वरीय मंडल चिकित्सा पदाधिकारी डा. रंजीत कुमार सिन्हा ने बताया कि यह सीएमई आधुनिक समय में होनेवाली बीमारियों को केन्द्रीत की गयी थी। इन बीमारियों को दूर करने के लिए सम्पूर्ण चिकित्सीय विधाओं के विशेषज्ञों को आमंत्रित किया गया था। न सिर्फ मॉडर्न मेडिसीन बल्कि योग, संगीत चिकित्सा, प्राकृतिक चिकित्सा प्रणालियों के सफल प्रयोगों पर चर्चा की गयी। वैज्ञानिक चर्चा में पटना, दिल्ली और मुम्बई के चिकित्सकों ने भाग लिया जिसमें पटना के पद्मश्री डा.एस.एन.आर्या, हृदय रोग विशेषज्ञ डा.ए.के.ठाकुर, पद्मश्री डा.इन्दुभूषण सिन्हा, डा.अजीत प्रधान, डा.राजन चौधरी के अलावा मुम्बई के डा.जे.पी.जैन और दिल्ली के डा.ए.के.झिंगन ने भाग लिया। स्वागत समिति के सदस्य डा.रशिमकांत और वैज्ञानिक समिति की सदस्य डा.रंजना सिन्हा ने बताया कि पमूर और इंडियन रलवे मेडिकल सर्विस एसोसिएशन द्वारा आयोजित दो दिवसीय सीएमई मील का पत्थर साबित हुआ है। पटना जंक्शन पर डिस्प्ले बोर्ड पर गलत जानकारीड्ढr पटना (हि.प्र.)। पटना जंक्शन के डिस्प्ले बोर्ड की तकनीकी खामियां तो दूर कर दी गई, पर कर्मचारी इसे अप-टू-डेट नहीं रखते हैं। इससे यात्री भ्रमित हो जाते हैं। शनिवार को भी जंक्शन पर कई यात्री डिस्प्ले बोर्ड देख हैरान रह गए। शाम पांच बजे थे और डिस्प्ले बोर्ड में दो बजे रवाना हो चुकी ट्रेन की जानकारी दी जा रही थी। यही आलम सुबह में भी था। 0 बजे 8.45 में आने वाली ट्रेनों की सूचना मिल रही थी। शाम पांच बजे डिस्प्ले बोर्ड दिखा रहा था कि 4056 ब्रह्मपुत्र मेल 3.45 बजे प्लेटफॉर्म नंबर दो से खुलेगी। जबकि यह ट्रेन 4.50 बजे रवाना हो चुकी थी। पांच बजे ही डिस्प्ले बोर्ड जानकारी दे रहा था कि 513 बक्सर सावारी गाड़ी 2.45 बजे प्लेटफॉर्म नंबर छह और 2303 पूर्वा एक्सप्रेस 4.05 बजे प्लेटफॉर्म नंबर तीन से खुलेगी। इसी तरह कई ट्रेनों की जानकारियां डिस्प्ले बोर्ड दे रहा था जो काफी पहले जंक्शन से जा चुकी थीं। इस संबंध में रलवे के टेलिकॉम विभाग के अधिकारी बताते हैं कि डिस्प्ले बोर्ड को तकनीकी रूप से फिट कर दिया गया है। बोर्ड में ट्रेन की जानकारियां फिड करने की जिम्मेदारी जिन कर्मियों को दी गइ्र है, वे लापरवाही बरतते हैं। बहरहाल लापरवाही कोई कर भुगत तो रहे हैं सकड़ों यात्री। मजहरूल हक विवि में शुरू होंगे नौ कोर्सड्ढr पटना (हि.प्र.)। मौलाना मजहरूल हक अरबी एंड फारसी विश्वविद्यालय, पटना में वर्तमान सत्र से नौ कोर्स शुरू किए जाने की योजना बनायी गयी है। वहां पर अभी व्यावसायिक व रोगारपरक पाठय़क्रम शुरू किया जा रहा है। इस सत्र से बीसीए, बीबीए, बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन, बैचलर ऑफ लाइब्रेरी एंड इनफारमेशन साइंस, डिप्लोमा इन फंक्शनल अरबी, पर्सियन, मैनुस्क्रिप्टोलॉजी, ओरिएंटल लाइब्रेरियनशिप और पंचायतीराज एकाउंटेंसी की पढ़ाई शुरू होगी। इन विषयों की पढ़ाई चिन्हित व अनुबंधित संस्थानों में स्थापित ज्ञान संसाधन केंद्र के माध्यम नियमित पाठय़क्रम के तौर पर करायी जाएगी। इसमें सीधा केंद्रीयकृत नामांकन होगा और मदरसा शिक्षा बोर्ड से उत्तीर्ण छात्रों को भी दाखिले का मौका मिलेगा। तत्काल विवि द्वारा इमारते शरिया के तकनीकी संस्थान फुलवारीशरीफ, उर्दू अकादमी अशोक राजपथ, मिल्लत एजुकेशनल सोसायटी अनिसाबाद और किशनगंज में ज्ञान संसाधन केंद्र स्थापित किया गया है।ड्ढr ड्ढr पीयू के कॉलेजों में जारी रहेगा नामांकनड्ढr पटना (सं.सू.)। पटना विश्वविद्यालय में स्नातक के नामांकन प्रक्रिया जारी है। पटना कॉलेज में स्नातक सत्र 2008-11 के लिए कला संकाय में शनिवार को 70 छात्र-छात्राओं ने नामांकन कराया। वहीं बीएन कॉलेज के प्रो. एम. एन सिन्हा ने बताया कि कला संकाय में 102 छात्रों का नामाकंन हुआ। इधर वाणिज्य महाविद्यालय के प्राचार्य शंभूनाथ सिंह ने बताया कि पटना विवि वाणिज्य संकाय में पटना विवि व अन्य विवि के छात्रों का मिलाकर वाणिज्य संकाय में मात्र 50 नामांकन हुआ। छात्रों के भविष्य को देखते हुए नामांकन प्रक्रिया जारी रहेगी। 30 जून तक सभी छात्रों का नामांकन कर लिया जाएगा।ड्ढr

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एक नजर