DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

किसी जरूरी काम से जाए तो बस में न बैठें

अलीगढ़। आप यिद बस द्वारा कहीं लंबे रूट पर जाना चाहते हैं तो सावधान हो जाए। ऐसा न हो कि आपको बस स्टैंड पर बस चलने का घंटों इंतजार करना पड़े। चौकाने वाली बात जरूर है, लेकिन चौकिए मत। शुक्रवार को ऐसा ही हुआ। दिनभर यात्री बस स्टैंड पर भटकते रहे। लेकिन उनकी सुनने वाला कोई नही आया। वहीं मौसम खराब होने के कारण यात्री भी कम िनकल रहे हैं।

एक माह से बस चालक पांच-छह याित्रयों को लेकर िनकल रहे थे। जिंसके कारण विभाग को काफी नुकसान हो रहा था। अब बसों को रोककर याित्रयों को एक दूसरी बस में बैठाकर बसों को आगे के लिए िनकाला जाएगा। शुक्रवार को गांधी पार्क बस स्टैंड का तो हाल काफी बुरा रहा। दिन भर यात्री इधर-उधर भटकते रहे। सैकड़ो यात्री बस में बैठे-बैठे परेशान गए, लेकिन बसें नहीं िनकलीं। हार कर कुछ याित्रयों को वापस लौटना पड़ा। वहीं कुछ यात्री डग्गेमार वाहन और ट्रनों से िनकले।

रोडवेज विभाग ने अपनी व्यवस्था तो कर ली। लेकिन याित्रयों की कोई परवाह नहीं रही। बसों में छूट रहा है सामान-बस स्टैंडों पर टीआई द्वारा याित्रयों को एक दूसरी बस में बैठाया गया। जिंसके कारण कुछ याित्रयों का सामान बसों में रह गया। िदल्ली से एटा जा रही सबाना ने बताया कि िदल्ली से सीधी एटा की िटकट ली थी। खुर्जा बस स्टैंड पर बस को रोका गया और बस से उतारकर दूसरी बस में बैठा दिया गया। जल्दबाजी के चक्कर में पहली बस में बैग रह गया।

जिंसमें कपड़े और अन्य काफी सामान रखा हुआ था। वर्जनयाित्रयों को सुविधा देने में कोई कसर नहीं छोड़ी जा रही है। यात्री कम होने के कारण यह व्यवस्था की गई है। याित्रयों को सुविधा देने के लिए बस स्टैंड पर टीआई लगाए गए हैं। -एचएस गावा, आरएम।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:किसी जरूरी काम से जाए तो बस में न बैठें