DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

आरइओ इंजीनियर पर निगरानी की नजर

ग्राम्य अभियंत्रण संगठन (आरइओ) के सहायक अभियंता राजदेव सिंह की संपत्ति पर अब निगरानी ने नजर गड़ा दी है। श्री सिंह अभी पाकुड़ में पदस्थापित हैं और वहां वे कार्यपालक अभियंता का काम भी देख रहे हैं। इनके इशार के बगैर किसी इंजीनियर का विभाग में स्थानांतरण तक नहीं होता। अगर किसी डीसी ने उनका आदेश नहीं माना, तो ट्रांसफर तक करवा सकते हैं। श्री सिंह की संपत्ति का ब्यौरा निगरानी एकत्र कर रही है। निगरानी के एक डीएसपी पूर मामले की जांच को अंजाम दे चुके हैं और अब श्री सिंह को एक पत्र लिखा गया है कि अपनी संपत्ति की जानकारी निगरानी को उपलब्ध करायें। अगर वे अपनी संपत्ति और आमदनी का ब्योरा नहीं देंगे तो उनके विरुद्ध अकूत संपत्ति अर्जित करने का मामला दर्ज किया जायेगा। श्री सिंह का रांची के बरियातू के जयप्रकाश नगर में आलीशान बंगला है। उसी की कीमत करीब एक करोड़ रुपये आंकी गयी है।ड्ढr दीपाटोली में जमीन, टाटीसिलवे में चार स्थानों पर जमीन, पटना के न्यू पाटलिपुत्रा में जमीन और हजारीबाग के जुलू पार्क में जमीन है। इन जमीनों की कीमत भी दो से तीन करोड़ रुपये के लगभग है। इसके अलावा बेशकीमती गाड़ियां और बहुत कुछ है। श्री सिंह पर आरोप है कि उन्होंने रांची का घर अपने एक रिश्तेदार और पत्नी के नाम बनवाया। बाद में उसे पत्नी के नाम से गिफ्ट दिखाया। पटना में भी घर है। उसे भी गिफ्ट के रूप में ही दिखाया गया है। राजदेव सिंह आरइओ के चर्चित अभियंताओं में एक हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: आरइओ इंजीनियर पर निगरानी की नजर