DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पंजाब कांग्रेस में असंतोष जारी रहने से आलाकमान चिंतित

पंजाब कांग्रेस में नवगठित कार्यकारिणी के खिलाफ वरिष्ठ नेताओं की जारी बगावत पार्टी आलाकमान के चिंता का सबब बनी हुई है। बिगड़ते हालात को देखते हुये प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रताप सिंह बाजवा ने आनन फानन में छह जनवरी को बैठक बुलायी है जिसमें इस मामले पर विचार विमर्श किया जायेगा ताकि कांग्रेस में बिखराव को यथा शीघ्र रोका जा सके। कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं का लगातार इस्तीफा पार्टी की सेहत के लिये नुकसानदेह साबित हो सकता है।
 
 सत्तारूढ़ अकाली दल पहले ही कांग्रेस के नेताओं को अपने में मिलाने की कोशिशें बरकरार रखे है और यदि समय रहते बगावत के सुर नहीं थमे तो कुछ और कांग्रेस पार्टी को अलविदा कह सकते हैं। अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर बादल पहले ही कह चुके हैं कि कुछ कांग्रेस नेता उनके संपर्क में हैं और वे कभी भी पार्टी छोड़ सकते हैं।

लोकसभा चुनाव निकट है तथा कांग्रेस की फूट पार्टी की जीत के रास्ते में बाधक बन सकती है और कांग्रेस आलाकमान इसी बात को लेकर ज्यादा चिंतित है। सूत्रों के अनुसार आलाकमान ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को मामलाजल्द हल करने के निर्देश दिये हैं और चंडीगढ में होने वाली बैठक इसी को ध्यान में रखते हुये बुलायी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पंजाब कांग्रेस में असंतोष जारी रहने से आलाकमान चिंतित