DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मनमोहन का मोदी पर हमला, तीसरी बार नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री

मनमोहन का मोदी पर हमला, तीसरी बार नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी को आज सीधे निशाने पर लेते हुए कहा कि उनका प्रधानमंत्री बनना देश के लिए विनाशकारी साबित होगा। लोकसभा चुनाव से कुछ महीने पहले सिंह ने प्रधानमंत्री के रूप में अपने दो कार्यकालों के दौरान आज तीसरे संवाददाता सम्मेलन में सवालों के जवाब में कहा, मैं ईमानदारी से मानता हूं कि नरेन्द्र मोदी जो कह रहे हैं, वह होने वाला नहीं है।
   
उनसे सवाल किया गया था कि क्या वह मानते हैं कि भारी समर्थन की लहर के चलते मोदी प्रधानमंत्री बनेंगे। मुख्य विपक्षी दल की ओर से उन्हें कमजोर प्रधानमंत्री बताये जाने के सवाल पर सिंह ने मजबूत नेता बताये जाने वाले मोदी पर प्रहार करते हुए कहा कि यदि आप अहमदाबाद की सड़कों पर निर्दोष नागरिकों के नरसंहार से प्रधानमंत्री की क्षमता को आंकते हैं तो मैं इसे नहीं मानता।
   
सिंह ने हालांकि 1984 के सिख विरोधी दंगों पर सवाल किये जाने पर कहा कि वह सार्वजनिक रूप से सरकार की ओर से सिख समुदाय से माफी मांग चुके हैं। 1984 में जो कुछ हुआ, वह नहीं होना चाहिए था। मोदी के प्रधानमंत्री बनने की संभावनाओं को खारिज करते हुए सिंह ने दावा किया कि उन्हें पूरा विश्वास है कि अगला प्रधानमंत्री भी कांग्रेस नेतृत्व वाले संप्रग का ही होगा।
   
आगामी लोकसभा चुनाव में खुद को प्रधानमंत्री पद की दौड़ से अलग करते हुए इसके लिए उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की पैरवी की। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने की अपार क्षमताएं हैं और मुक्षे उम्मीद है कि पार्टी इस बारे में उचित समय पर फैसला करेगी।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि कांग्रेस लोकसभा चुनाव के लिए प्रधानममंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा उचित समय पर करेगी। प्रधानमंत्री ने यह बयान मीडिया वार्ता में कहा जहां उन्होंने इस बात की भी घोषणा की कि वह अगले लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री पद की दौड़ में शामिल नहीं होंगे।

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि वह पद से इस्तीफा देने से पहले पाकिस्तान जाना चाहते हैं, लेकिन उपयुक्त माहौल होना चाहिए। जब उनसे पूछा गया कि वह साल 2004 में पदभार संभालने के बाद से पाकिस्तान क्यों नहीं गए तो उन्होंने कहा कि उनकी पाकिस्तान जाने की बेहद इच्छा है।

उन्होंने कहा, ''मैं उस गांव में पैदा हुआ हूं जो पश्चिमी पंजाब का हिस्सा है। लेकिन एक देश का प्रधानमंत्री होने के नाते मुझे पाकिस्तान तब जाना चाहिए जब बेहतर उपलब्धि के लिए उचित माहौल हो।'' प्रधानमंत्री ने कहा,  ''अंतत: मैं मानता हूं कि पाकिस्तान जाने की परिस्थिति उचित नहीं है, लेकिन मैंने पद छोड़ने से पहले पाकिस्तान जाने की उम्मीद नहीं छोड़ी है।''

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी में कांग्रेस के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार बनने की काबिलियत है। प्रधानमंत्री ने कहा, ''मैंने शुरुआत में इशारा किया है कि आम चुनाव के बाद संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) की सरकार के सत्ता में आने पर मैं प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं बनना चाहता।'' उन्होंने कहा, ''राहुल में प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनने की काफी काबिलियत है और मुझे उम्मीद है कि हमारी पार्टी उचित समय पर फैसला लेगी।''

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव के बाद वह पद छोड़ देंगे। मनमोहन सिंह ने यहां मीडिया से कहा, ''लोकसभा चुनाव के बाद मैं जिम्मेदारी नए प्रधानमंत्री को सौंप दूंगा। मुझे उम्मीद है कि अगला प्रधानमंत्री संयुक्त प्रगतिशाली गठबंधन (संप्रग) का चुना हुआ होगा और हमारी पार्टी अगले आम चुनाव के प्रचार के लिए काम करेगी।''

उन्होंने कहा, ''मुझे विश्वास है कि हमारी नई पीढ़ी के नेता अपरिचित व अस्थिर वैश्विक बदलाव की लहर के साथ हमारे महान देश को सफलतापूर्वक दिशा देंगे।'' मनमोहन सिंह ने कहा, ''अगर संप्रग दोबारा सत्ता में वापस आती है तो मैं प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार नहीं होउंगा।''

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मनमोहन का मोदी पर हमला, तीसरी बार नहीं बनेंगे प्रधानमंत्री