DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार में बसाने का दिया प्रस्ताव

बिहार में बसाने का दिया प्रस्ताव

नीतीश ने पीडिता के परिजनों को हरसंभव मदद का किया वादा, आईजी को कोलकाता भेजा
कोलकाता में गैंगरेप की शिकार होने के बाद अपराधियों द्वारा जलाकर मार दी गई पीडिता ‘शांभवी’ के परिजनों को बिहार सरकार ने बिहार लौटने पर पूरा इंतजाम करने का आश्वासन दिया है।

कैबिनेट की बैठक से लौटने के क्रम में इस मसले पर संवाददाताओं से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि कोलकाता की घटना अत्यंत दुखद है। अगर पीडित परिवार बिहार लौटना चाहता है तो सरकार उनके पुनर्वास की व्यवस्था करेगी। मालूम हो कि कोलकाता की शांभवी बिहार की रहने वाली थी। उसके पिता कोलकाता में टैक्सी चलाते हैं।

इससे पहले कुमार ने घटना के बाबत गुरुवार की सुबह डीजीपी अभयानंद व गृह सचिव अमीर सुभानी से मंत्रणा की। मंत्रणा के बाद स्पेशल ब्रांच के आईजी जितेंद्र सिंह गंगवार को कोलकाता भेजने का फैसला किया गया। मुख्यमंत्री ने मुख्यमंत्री राहत कोष से पीडिम्ता के परिजनों को अनुग्रह अनुदान राशि के रूप में एक लाख रुपये दिए जाने का निर्देश दिया। अनुग्रह राशि का चेक भी जेएस गंगवार के हाथ कोलकाता भेजा गया।

गंगवार देर शाम कोलकाता पहुंच गए। कोलकाता में सबसे पहले उन्होंने शांभवी के परिजनों से मुलाकात कर उन्हें राज्य सरकार द्वारा दिए गए अनुग्रह राशि का चेक सौंपा। उनके साथ एक एडीएम स्तर के अधिकारी जगदीश कुमार भी थे। शांभवी के परिजनों ने गंगवार को विस्तार से पूरे प्रकरण की जानकारी दी। गंगवार ने शांभवी के परिजनों से अन्य समस्याओं के बारे में भी पूछा। यह भी कहा कि अगर वे लोग वापस बिहार लौटना चाहते हैं, तो उसका इंतजाम बिहार सरकार के स्तर से कराया जाएगा। पर शांभवी के परिजनों ने कहा कि वे लोग अपनी बेटी के न्याय की लड़ाई कोलकाता में रहकर ही लड़ेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बिहार में बसाने का दिया प्रस्ताव