DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पत्नी कर्मचारी, पति आपूर्तिकर्ता और विभाग खरीददार

जमशेदपुर, ललित दुबे। सदर अस्पताल में हुए दवा घोटाले में एक अनोखा गठजोड़ सामने आया है। यह गठजोड़ है स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत एक महिला कर्मचारी, महिला कर्मचारी के दवा आपूर्तिकर्ता पति और विभागीय कर्मचारियों का। इन्होंने नियम-कानून को ताक पर रखकर दवा खरीद घोटाले को अंजाम दिया। गठजोड़ के बूते मिले ऑर्डर दवा आपूर्ति के ऑर्डर में नियमों को दरकिनार करते हुए स्वास्थ्य विभाग में कार्यरत महिला कर्मचारी के पति को दवा आपूर्ति का ठेका मिला।

ऐसा न केवल सदर अस्पताल में दवा आपूर्ति में हुआ बल्कि जुगसलाई सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के साथ-साथ अन्य सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों की दवा खरीद में भी हुआ है। गठजोड़ में शामिल कर्मचारी ने खरीदी कार दवा खरीद मामले में कमीशनखोरी कितनी ज्यादा हुई है, इसका प्रत्यक्ष प्रमाण भी सामने आने लगा है। पूरे मिलीभगत में शामिल एक कर्मचारी ने तो हाल में कार भी खरीद ली है। कोट-दवा खरीद से जुड़े सभी कागजात और प्रक्रिया के दस्तावेज मांगकर जांच कराई जाएगी।

घोटाले को अंजाम देने में फर्जी कर्मचारियों के गिरोह का हाथ है। घोटालेबाजों को बख्शा नहीं जाएगा। -डॉ. एलबीपी सिंह, सिविल सर्जन, पूर्वी सिंहभूम।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:पत्नी कर्मचारी, पति आपूर्तिकर्ता और विभाग खरीददार