DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

दंगा पीड़ितों को मिले न्याय: माले

गया निज संवाददाता। उत्तर प्रदेश के मुजफ्फरनगर के दंगा पीडितों को न्याय, राहत शिविरों में महिलाओं के साथ बलात्कार की घटना के दोषियों को सजा तथा शिविर में ठंड से बच्चों की मौत को रोकने आदि मांगों को लेकर भाकपा माले ने गुरुवार को जिलाधिकारी कार्यालय के समक्ष धरना दिया। धरने के बाद राष्ट्रपति के नाम का ज्ञापन जिलाधिकारी को सौंपा गया। धरने को संबोधित करते हुए माले नेताओं ने कहा कि मुजफ्फरनगर में दंगा को रोकने ओर राहत शिविर में पीड़ितों पर हो रहे अमानवीय व्यवहार को रोकने में सपा सरकार विफल हुई है।

राहत शिविर में महिलाओं के साथ जहां बलात्कार हो रहा है वहीं यहां ठंड से 34 बच्चों की मौत अब तक हो चुकी है। पीड़ितों को पुनर्वास में सपा सरकार विफल हो रही है। नेताओं ने सांप्रदायिक सौहाद्र्र बिगाड़ने के लिए संघ गिरोह का दोषी ठहराते हुए कहा कि इससे पूरे देश का माहौल खराब हुआ है। वक्ताओं ने सांप्रदायिक हिंसा के दोषियों को गिरफ्तार कर उन्हें सजा देने तथा इस दंगे की जांच सुप्रीम कोर्ट की देख-रेख में एसआईटी गठित कर कराने की मांग की है।

धरने में माले जिला सचवि निरंजन कुमार, ऐपवा जिला सचवि रीता वर्णवाल, बिहार राज्य निर्माण मजदूर युनियन जिला सचवि सुदामा राम, अखिल भारतीय खेत मजदूर सभा के जिला संयोजक श्रीचंद दास, माले नेता आनंद कुमार, मो. अजीम, रोजी खातून, नवल किशोर यादव, कामता प्र. सिंह एवं ऐक्टू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष श्याम लाल प्रसाद शामिल हुए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:दंगा पीड़ितों को मिले न्याय: माले