DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

गैंगरेप और हत्या के विरोध में माले का धरना

पटना। हिन्दुस्तान ब्यूरो। पश्चिम बंगाल में बिहार की बच्ची के साथ गैंगरेप व हत्या और नवरुणा सहित अन्य मामलों को लेकर माले ने गुरुवार को यहां धरना दिया। कारगिल चौक पर आयोजित धरना में बड़ी संख्या में आम लोगों और बुद्धिजीवियों ने भाग लिया। पटना के आलावा आरा, सीवान, जहानाबाद, गया, दरभंगा आदि स्थानों पर धरने दिए गए। पटना में आयोजित सभा में माले के राष्ट्रीय महासचवि दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि मुजफ्फरनगर दंगे के सवाल पर केन्द्र सरकार को धारा 355 के तहत हस्तक्षेप करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि मुजफ्फरनगर दंगा के पीड़ितों को राहत शिविरों से जबरन हटाने के विरोध में राष्ट्रव्यापी प्रतविाद दिवस मनाया जा रहा है। पार्टी ने दंगे की जांच सुप्रीम कोर्ट की देखरेख में गठित एसआईटी से कराने की मांग की है। सवाल किया कि अब तक दंगा के नामजद अभियुक्तों की गिरफ्तारी क्यों नहीं हुई है। सभा में यह तय किया गया कि गैंगरेप के मामले में ऐपवा की टीम बंगाल का दौरा करेगी। इस मौके पर पूर्व सांसद रामेश्वर प्रसाद, ऐपवा की राजध्यक्ष सरोज चौबे, राष्ट्रीय महासचवि मीना तिवारी, प्रो. भारती एस. कुमार आदि नेताओं ने अपने विचार व्यक्त किए।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:गैंगरेप और हत्या के विरोध में माले का धरना