DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

यूपीसीएल नहीं यूजेवीएनएल का निकला फॉल्ट

देहरादून। कार्यालय संवाददाता

विकासनगर-कालसी क्षेत्र में बिजली संकट की असलियत जानने के लिए यूपीसीएल के एमडी सुमेर सिंह यादव व डायरेक्टर (आपरेशन) अनिल कुमार ने विकासनगर के सबस्टेशनों व अपनी बिजली लाइनों का स्वयं पहुंच कर निरीक्षण किया। अपनी जांच में उन्होंने यह पाया है कि विकासनगर का बिजली संकट यूपीसीएल नहीं वरन यूजेवीएनएल की वजह से आ रहा है। हिन्दुस्तान में विकासनगर में बिजली कटौती से सम्बंधित खबर का संज्ञान लेकर एमडी सुमेर सिंह यादव व डायरेक्टर(ऑपरेशन) अनिल कुमार देर शाम को विकासनगर पहुंचे और करीब दो-ढाई घंटे क्षेत्र की सप्लाई की स्थिति का आंकलन करते रहे।

दोनों अधिकारियों ने अपने निरीक्षण में यह पाया है कि कॉरपोरेशन के सभी ट्रांसफार्मर व बिजलीघर पूरी तरह से आपूर्ति सुनशि्चित रखे हुए हैं। दरअसल विकासनगर, कालसी और चकराता के लिए ढकरानी पावर हाउस से लाइनें जाती हैं। इस पावर हाउस व लाइनों का संचालन यूजेवीएनएल करता है। जहां से बिना कारण ट्रांसफार्मर से सप्लाई रोकी जा रही है। बिजली होने के बावजूद भी इस कटौती पर उन्होंने आश्चर्य जताया है। इन अधिकारियों ने ढकरानी पावर हाउस जाकर असल स्थिति अपनी आंखों से देखी।

इस दौरान विभाग के उच्चाधिकारी भी साथ में मौजूद थे।

माजरा में लगेगा एक और ट्रांसफार्मर दून शहर के माजरा 132 केवी बिजलीघर में ओवरलोड की समस्या को दूर करने के लिए शुक्रवार को आठ केवीए का एक ओर ट्रांसफार्मर लगाया जाएगा। इसके बाद टर्नर रोड, आईएसबीटी, क्लेमनटाउन क्षेत्र के हजारों उपभोक्ताओं को लो वोल्टेज, बार-बार लाइन ट्रिप होने की समस्या से मुक्ति मिल सकेगी। ऊर्जा निगम के एमडी सुमेर सिंह यादव ने इस सम्बंध में अधिकारियों को उचित निर्देश दिए हैं।

उन्होंने माजरा स्थिति 132 केवी बिजलीघर पहुंचकर सप्लाई की स्थिति का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया कि, बिजलीघर में आठ केवीए का एक ट्रांसफार्मर पहले से है। इसके अतिरिक्त आठ केवीए का दूसरा ट्रांसफार्मर यहां पर शुक्रवार को स्थापित कर दिया जाएगा। इस कारण दोपहर के समय करीब एक से डेढ़ घंटा तक आपूर्ति बाधित रह सकती है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:यूपीसीएल नहीं यूजेवीएनएल का निकला फॉल्ट