DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

होगी जिले में फौज की भर्ती

फतेहपुर। हिन्दुस्तान संवाद

जिले में फौज भर्ती मेला की स्थिति साफ हो गयी। भर्ती मेला अब 16 से 26 फरवरी के बीच लगेगा।

गुरुवार को नहर कालोनी में आयोजित अधिकार मंच के धरने में यह घोषणा डीएम एवं सांसद ने की। डीएम ने माघ मेला की वविसता बताते हुए कहा कि मेले में 15 फरवरी तक जिले की फोर्स रहेगी, जिसके कारण उपरोक्त तिथि रक्षा मंत्रालय को भेजी है। इस बात से इंकार किया कि इससे पहले भर्ती के लिए आए चार पत्रों पर तिथियां नहीं दी। तर्क दिया कि मंत्रालय अपनी सुविधानुसार तिथियां दे रहा था, जबकि प्रशासन अपनी सुविधानुसार तिथियां मांग रहा था।

संत विज्ञानानन्द की अध्यक्षता वाले विकास मंच की पैरवी पर गत वर्षो में फौज भर्ती मेला जिले में लगा था। इस वर्ष भी मेला लगना था। परन्तु प्रशासन से तिथियां तय नहीं हो पा रही थी। जिससे जिले की भर्ती किसी अन्य जिले में लगाने की तैयारी मंत्रालय में हो गयी थी। भर्ती मेला जिले में ही लगे इसकी पैरवी के लिए संत जिले के राजनैतिकों और प्रबुद्धों के साथ प्रयासरत थे। प्रशासन द्वारा मेला लगवाने में हांथ खडे करने की बात जब विचार मंच को लगी तो आनन फानन में अधिकार मंच का गठन कर प्रशासन के खिलाफ मोर्चा खोल दिया गया।

गुरुवार को अधिकार मंच के बैनर तले विचार मंच ने नहर कालोनी मैदान में आन्दोलन शुरु कर दिया गया। जिसे जिले भर भारी संख्या में सेना में भर्ती की तैयारी कर रहे युवा एवं प्रबुद्ध एकत्रित हुए। धरने में सांसद राकेश सचान व डीएम पहुंचे और उपरोक्त घोषणाऐं करते हुए धरना समाप्त करा दिया। सांसद राकेश सचान ने कहा कि जिले में भर्ती मेला रेगुलर होगा। अगले वर्ष से इसके लिए अप्रैल महीना सुनशि्चत करा दिया गया है। प्रशासन को हिदायत दी कि इस तरह के मामले कोई नकारात्मक पत्र ऊपर नहीं जाना चाहिए।

इस मौके पर यशवंत सिंह, एसके त्रिपाठी, जितेन्द्र शुक्ला, छत्रपाल, सुनीता दीक्षित, सुधाकर अवस्थी, बीरेन्द्र यादव आदि मौजूद रहे। प्रशासन की ओर से एडीएम रामचन्द्र भी डीएम के साथ मौजूद रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: होगी जिले में फौज की भर्ती