DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

महापौर के निरीक्षण में कार्यालय में मिले दलाल

गोरखपुर। कार्यालय संवाददाता

नगर निगम में जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र जारी करने वाले कार्यालय में भ्रष्टाचार की शिकायतों पर गुरुवार को महापौर डॉ. सत्या पाण्डेय ने वहां का औचक निरीक्षण किया। छापे के समय कार्यालय में लिपिकों की सीट पर तीन-चार दलाल बैठे मिले जो महापौर के साथ अधिकारियों को आते देख भाग खड़े हुए।

प्रमाण पत्र के नाम पर सुविधा शुल्क मांगे जाने को लेकर गत दिनों कुछ लोगों का कार्यालय के लिपिक से झगड़ा हुआ था। इस मामले में महापौर को पंचायत करनी पड़ी थी। महापौर को लगातार शिकायत मिल रही थी कि वहां दलालों का जमावड़ा रहता है। गुरुवार को कार्यालय पहुंचीं महापौर ने संबंधित लिपिक को जमकर फटकार लगाई और आचरण सुधार लेने की चेतावनी दी। उन्होंने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि कार्यालय में सीसीटीवी कैमरा लगवाया जाए और दलालों का प्रवेश वर्जित किया जाए।

अगर कोई दलाल पकड़ में आए तो उसे पुलिस को सौंपा जाए। महापौर ने लोगों से अपील की कि जन्म-मृत्यु प्रमाण पत्र के नाम पर किसी कर्मचारी को सुविधा शुल्क न दें। अगर कोई पैसा मांगे तो उसे रंगे हाथों पकड़वाने के लिए नगर निगम प्रशासन को बताएं। नगर निगम टीम ने छह दुकानों को सील कियागोरखपुर। कार्यालय संवाददातानगर निगम अधिकारियों की टीम ने गुरुवार को बकाया कर और किराए का भुगतान न करने पर आधा दर्जन दुकानें सील कर दीं।

बकाया सूची लेकर निकली नगर निगम की टीम के आने की सूचना पर असुरन पर दुकानों का आवंटन प्राप्त करने वालों में भगदड़ मच गई। कई दुकानदार अपने प्रतिष्ठानों में ताला लगा कर भाग खड़े हुए। नगर निगम इन दिनों कर व किराया बकाया की वसूली का अभियान चला रहा है। नगर निगम की दुकानों के आवंटियों को बकाया जमा करने के लिए मोहलत दी गई थी, जो बीत गई है। गुरुवार को उप नगर आयुक्त गोपी कृष्ण श्रीवास्तव और मुख्य कर निर्धारण अधिकारी रवीश चंद्र के नेतृत्व में निकली नगर निगम की टीम ने असुरन धर्मशाला रोड पर दुकान संख्या 48, 67 व 68 तथा दुकान संख्या 71 और 73 को सील कर दिया।

इन दुकानों का आवंटन भगवानदीन, कमला देवी, मनोज कुमार, महेंद्र व अलाउद्दीन के नाम पर है। इसी प्रकार असुरन पिपराइच रोड पर ध्रुव कुमार को आवंटित दुकान संख्या 67 को भी सील कर दिया गया। इसी मार्केट में दो बकायेदारों से 3.71 लाख रुपए किराया की वसूली की गई। पार्षदों को मिले 100-100 कंबलमहापौर डॉ. सत्या पाण्डेय ने गुरुवार को नगर निगम में आयोजित एक कार्यक्रम में पार्षदों को 100-100 कंबल का टोकन और प्रोफार्मा दिया। उन्होंने पार्षदों से अपील की है कि वे अपने-अपने वार्ड में कंबल वितरण के लिए टोकन प्राप्त कर गांधी आश्रम से कंबल उठवा लें।

कंबल वितरण के लिए 100 असहाय व्यक्तियों के नाम प्रोफार्मा पर तैयार करा कर सूची विभाग को उपलब्ध कराएं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:महापौर के निरीक्षण में कार्यालय में मिले दलाल