DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भट्टी ने पाकिस्तान का पलड़ा भारी रखा

भट्टी ने पाकिस्तान का पलड़ा भारी रखा

पेसर बिलावल भट्टी ने लगातार गेंद पर अनुभवी बल्लेबाजों कुमार संगकारा और महेला जयवर्धने को पवेलियन भेजकर पहले क्रिकेट टेस्ट के तीसरे दिन श्रीलंका के खिलाफ पाकिस्तान का पलड़ा भारी रखा।

टेस्ट क्रिकेट में पदार्पण कर रहे 22 वर्षीय भटटी ने संगकारा (55) को अपने 10वें ओवर की अंतिम गेंद पर आउट करने के बाद अगले ओवर की पहली गेंद पर जयवर्धने को भी आउट कर दिया। श्रीलंका ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक दूसरी पारी में चार विकेट पर 186 रन बनाए हैं। जुनैद खान (46 रन पर दो विकेट) ने दिन के अंतिम ओवर में कौशल सिल्वा (81) को विकेट के पीछे कैच कराया।

अपना पहला टेस्ट अर्धशतक जड़ने वाले सिल्वा ने 275 मिनट की अपनी पारी के दौरान 11 चौके जड़े। उन्होंने पहले विकेट के लिए दिमुथ करूणारत्ने (24) के साथ 47 रन जोड़कर टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई थी। उन्होंने जुनैद की गेंद पर एक रन के साथ अपना पहला टेस्ट अर्धशतक पूरा किया। सिल्वा और संगकारा ने दूसरे विकेट के लिए 99 रन जोड़कर श्रीलंका को मजबूत स्थिति में पहुंचाया था लेकिन पाकिस्तान के तेज गेंदबाज अपनी टीम को वापसी दिलाने में सफल रहे।
   
दिन का खेल खत्म होने पर दिनेश चांदीमल 24 रन बनाकर खेल रहे थे। श्रीलंका ने पहली पारी में 179 रन की बढ़त गंवाई थी जिससे टीम अब सिर्फ सात रन से आगे चल रही है जबकि उसके सिर्फ छह विकेट शेष हैं। इससे पहले पाकिस्तान ने श्रीलंका के पहली पारी में 204 रन के जवाब में 383 रन का स्कोर खड़ा किया।

दूसरी पारी में पाकिस्तान को पहली सफलता जुनैद ने दिलाई जिन्होंने सलामी बल्लेबाज करूणारत्ने को बोल्ड किया। सिल्वा और संगकारा ने इसके बाद पारी को संभाला। श्रीलंका की उम्मीदें अनुभवी संगकारा पर टिकी थी 2011 में इसी मैदान पर दोहरा शतक जड़ते हुए पाकिस्तान के खिलाफ मैच ड्रा कराया था। भट्टी ने 29 रन के स्कोर पर संगकारा को पगबाधा आउट कर दिया था लेकिन बल्लेबाजी ने रैफरल लिया और टीवी अंपायर ने मैदानी अंपायर के फैसले को बदल दिया। संगकारा ने इसके बाद अर्धशतक पूरा किया लेकिन भट्टी ने उन्हें स्लिप में यूनिस खान के हाथों कैच करा दिया। उन्होंने 98 गेंद की अपनी पारी में छह चौके मारे। भट्टी ने अपने अगले ओवर में जयवर्धने को भी गली में कैच देने को मजबूर किया जो खाता भी नहीं खोल पाए।

इससे पहले सुबह के सत्र में श्रीलंका को उसके तेज गेंदबाजी और स्पिन मिश्रित आक्रमण ने वापसी दिलाई। पाकिस्तान की टीम चार विकेट पर 327 रन से आगे खेलने उतरी और उसने अपने अंतिम छह विकेट 54 रन जोड़कर गंवा दिए। तेज गेंदबाज शामिंदा इरांगा ने 80 रन देकर तीन जबकि बाएं हाथ के स्पिनर रंगना हेराथ ने 90 रन देकर तीन विकेट चटकाए। हेराथ ने अपने तीनों विकेट आज 10 गेंद में भीतर हासिल किए। तेज गेंदबाज सुरंगा लकमल ने भी 99 रन देकर दो विकेट हासिल किए।

पाकिस्तान के कप्तान मिसबाह उल हक ने 135 रन बनाए। उन्होंने 306 गेंद की अपनी पारी में 16 चौके और एक छक्का मारा। वह आउट होने वाले अंतिम बल्लेबाज रहे। उन्हें हेराथ ने लांग आफ पर कैच कराया। मिसबाह ने यूनिस खान (136) के साथ 218 रन की साझेदारी भी की। पाकिस्तान ने आज दिन के चौथे ओवर में ही असद शाफिक (13) का विकेट गंवा दिया। उन्हें लकमल ने आउट किया।

इरांगा ने इसके बाद विकेटकीपर अदनान अकमल (6) को पवेलियन भेजा जबकि एंजेलो मैथ्यूज ने बिलावल भट्टी (14) की पारी का अंत किया। हेराथ ने लगातार गेंदों पर सईद अजमल और राहत अली की पारी का अंत किया। हेराथ ने मिसबाह को संगकारा के हाथों कैच कराके पाकिस्तान की पारी का अंत किया।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भट्टी ने पाकिस्तान का पलड़ा भारी रखा