DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रंग-बिरंगी उम्मीद के लिए

बीते साल के एक चित्र पर निगाह थम गई। फिलीपींस में तूफान प्रभावित एक बच्ची आसमान की ओर सिर किए हेलिकॉप्टर को देख रही थी। उसे उम्मीद थी कि कोई आएगा और उसे राहत सामग्री मिलेगी। उसकी उम्मीद पूरी हुई या नहीं यह तो नहीं पता, चित्र देखकर यह जरुर लगा कि उम्मीद दुनिया की सबसे खूबसूरत चीज है। यह हमेशा रंग-बिरंगी होती है। नए साल के लिए सबसे जरुरी है हम उम्मीदों का दामन थामें। आखिर अरुणिमा एवरेस्ट पर इसलिए चढ़ पाई, क्योंकि उसने ऐसा करने की उम्मीद पाली थी। अन्यथा उसके पास था क्या? पैर तक तो नहीं थे पहाड़ पर चढ़ने के लिए? इरविंग बैलेस अपनी पुस्तक द बुक ऑफ लिस्ट्स में लिखते हैं- ज्यादातर व्यक्ति तीन चीजों की उम्मीद जरूर लगाए रखता है- प्रियतम का सहचर्य, अतुल संपत्ति और अमरता। वह कहते हैं कि ये मिले न मिले लेकिन जिंदगी के मायने यही हैं कि इनकी और इन जैसी अन्य चीजों की उम्मीद रखी जाए।

आधुनिक तत्वज्ञानियों ने भी माना है कि विचार से अधिक विश्वास की शक्ति है और जिस चीज का हमें विश्वास हो, उसकी हम उम्मीद करते हैं। डेल कारनेगी कहते हैं यथास्थितिवाद बहुत से लोगों का स्वाभाव बन जाता है। वे अभाव से छुटकारा पाने का प्रयत्न ही नहीं करते। ऐसा स्वाभाव धीरे-धीरे शरीर का अंग बन जाता है और उस छोड़ना कठिन हो जाता है। वे कहते हैं कि नाउम्मीदी सबसे पहले साहस और सामथ्र्य कम करती है और फिर हमारा व्यक्तित्व संदेहशील बना डालती है। जूनियर मार्टिन लूथर किंग मानते थे कि आदमी जंग लगने के लिए पैदा नहीं हुआ। उसे उसकी क्रियाशीलता बनाए रखती है और उम्मीद और सपने उसे वह सब देते हैं जिसके लिए वह दुनिया में आया। लेकिन कोरी उम्मीद से बात नहीं बनती। असल बात है कि आपका जीवन उस मानसिक सांचे में ढल रहा है या नहीं, जिसकी आप उम्मीद कर रहे हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:रंग-बिरंगी उम्मीद के लिए