DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निर्यात में इस साल कुछ बेहतरी की उम्मीद नहीं: आरबीआई

निर्यात में इस साल कुछ बेहतरी की उम्मीद नहीं: आरबीआई

विदेशों से मांग सुस्त रहने से मौजूदा वित्त वर्ष निर्यात के मोर्चे पर कुछ बेहतर खबर की उम्मीद नहीं है। आरबीआई की ओर से जारी रिपोर्ट के अनुसार चालू वित्त वर्ष की पहली छमाही के निर्यात आंकडों से यह संकेत मिल रहे है कि इस वित्त वर्ष भी देश का निर्यात पिछले वित्त वर्ष के लगभग बराबर ही रहेगा।

सरकारी आंकडों के अनुसार वित्त वर्ष 2012-13 के दौरान देश का निर्यात कुल 300 अरब डॉलर का रहा था। इस साल पहली छमाही के दौरान यह 152 डॉलर रहा है जो कि 300 अरब डॉलर के करीब आधा है। आरबीआई के आंकडों के अनुसार देश का एक तिहाई निर्यात ओईसीडी के सदस्यों देशों जैसे यूरोपीय संघ, उत्तरी अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और जापान जैसे देशों को होता है।

मौजूदा वित्त वर्ष के पहले छह महीनों के दौरान इन देशों को कुल 53 अरब डॉलर का निर्यात किया गया जबकि पिछले समूचे वित्त वर्ष के दौरान यह आंकडा 103 अरब डॉलर रहा था। देश के कुल निर्यात का 20 प्रतिशत हिस्सा तेल उत्पादक देशों जैसे इंडोनेशिया,ईरान, इराक, संयुक्त अरब अमीरात और सऊदी अरब को किया जाता है। मौजूदा वित्त वर्ष के पहले छह महीनों में इन देशों को कुल 30 अरब डॉलर का निर्यात किया गया। इसके साथ ही निर्यात का 43 प्रतिशत हिस्सा दक्षेस के देशों तथा एशिया और अफ्रीका के कुछे देशों को के नाम रहा। आलोच्य अवधि में इन देशो को कुल 60 अरब डॉलर का निर्यात हुआ।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:निर्यात में इस साल कुछ बेहतरी की उम्मीद नहीं: आरबीआई