DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बिहार सरकार का विद्युत दर में कमी करने का इरादा नहीं

दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के विद्युत दर को आधा किए जाने के निर्णय के बाद अनेक राज्यों में इसमें कमी किए जाने चर्चा के बीच बिहार सरकार ने ऐसा करने से इंकार करते हुए गुरुवार को कहा कि यहां विद्युत दर पूर्व से ही कम तथा क्रय दर से कम दर पर बिजली उपलब्ध करायी जा रही है।
    
बिहार के उर्जा मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने आज यहां संवाददाताओं को बताया कि इस प्रदेश में शहरी इलाके में विद्युत पहले से ही कम दो से सवा दो रूपये प्रति यूनिट की दर से उपलब्ध कराया जा रहा है।
    
दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार के विद्युत दर को आधा किए जाने के निर्णय के बाद अनेक राज्यों में इसमें कमी किए जाने चर्चा के बारे में पूछे जाने पर बिजेंद्र ने कहा कि अन्य राज्यों की तुलना में बिहार में विद्युत दर अधिक नहीं है। उन्होंने कहा कि बिहार में केवल 11 प्रतिशत शहरी क्षेत्र है जबकि बाकी इलाका ग्रामीण क्षेत्र है।
    
एक अन्य प्रश्न का उत्तर देते हुए बिजेंद्र ने स्पष्ट किया कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने वर्ष 2012 के अपने स्वतंत्रता दिवस के भाषण में वादा किया था कि अगर राज्य में विद्युत की स्थिति में सुधार नहीं आया तो वे वर्ष 2015 में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव में जनता से वोट मांगने नहीं जाएंगे न कि यह कहा था कि हर घर को बिजली उपलब्ध करायी जाएगी।
    
उन्होंने कहा कि बिहार में उर्जा के क्षेत्र में आए सुधार के कारण इस वर्ष के अंत तक प्रदेश में करीब तीन हजार मेगावाट बिजली उपलब्ध होगी इसलिए इसकी कमी को लेकर मुख्यमंत्री को जनता से माफी नहीं मांगनी पडेगी।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सरकार का विद्युत दर में कमी करने का इरादा नहीं