DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बांग्लादेश में अनिश्चितता की स्थिति जारी

बांग्लादेश में अनिश्चितता की स्थिति जारी

बांग्लादेश में पांच जनवरी को होने वाले संसदीय चुनाव को लेकर अनिश्चितता की स्थिति जारी है। जहां विपक्ष चुनाव स्थगित कराने के लिये आंदोलन के अपने रास्ते पर कायम है, वहीं सत्तारूढ़ आवामी लीग ने चुनाव हर हालत में निश्चित तिथि पर कराने की घोषणा कर अनिश्चितता की स्थिति को और बढ़ा दिया है।

ब्रिटेन के उच्चायुक्त और अमेरिका के राजदूत ने विपक्ष की नेता बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी की खालिदा जिया से भेंट कर सुलह-सफाई का प्रयास किया है, लेकिन उनके प्रयासों का भी अभी तक कोई परिणाम सामने आता दिखायी नहीं दे रहा है। सुलह-सफाई का संयुक्त राष्ट्र मिशन का प्रयास पहले ही विफल हो चुका है।

इस बीच बांग्लादेश के मुख्य चुनाव आयुक्त तथा अन्य अधिकारी कल राष्ट्रपति से भेंट करेंगे और इस भेंट के बारे में भी तरह-तरह के कयास लगाये जा रहे हैं। विपक्षी बांग्लादेश नेशनलिस्ट पार्टी तथा उसके सहयोगी जमायत-ए-इस्लामी का चुनाव स्थगित कराने के लिये सड़क, रेल तथा नदी मार्ग के यातायात के अवरुद्ध करने का अभियान जारी है।

वहीं, बांग्लादेश के एक दैनिक समाचार पत्र ने अफसोस जताते हुए कहा है कि बांग्लादेश में हो रही हिंसा राजनीतिक हिंसा है, जिसका शिकार महिलाएं, बच्चों और यहां तक की अल्पसंख्यक समुदाय भी हुए हैं। समाचार पत्र 'डेली स्टार' ने अपने संपादकीय में लिखा कि साल 2013 में मानवाधिकारों के उल्लंघन की बढ़ती घटनाएं स्पष्ट रूप से राजनीतिक हिंसा की घटनाएं हैं।

समाचारपत्र ने लिखा कि इन सब का सबसे बुरा पक्ष यह है कि हिंसा के शिकार न सिर्फ सत्तारूढ़ और विपक्षी पार्टी के कार्यकर्ता हुए हैं, बल्कि महिलाएं, बच्चों और यहां तक कि अल्पसंख्यक समुदाय भी इस राजनीतिक हिंसा का शिकार हुए हैं। एक अनुमान के मुताबिक, इस तरह की राजनीतिक हिंसा में कम से कम 507 लोग मारे जा चुके हैं।

समाचारपत्र ने लिखा कि हिंसा की घटनाओं का सबसे बुरा नतीजा इस रूप में सामने आया है कि आगजनी की वारदातों, बम विस्फोट और पुलिस की गोलीबारी की चपेट में निर्दोष जनता, महिलाएं, पुरुष, बच्चों भी आए हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:बांग्लादेश में अनिश्चितता की स्थिति जारी