DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

वकीलों की हड़ताल तीसरे दिन भी जारी रही

 बिधूना। हिन्दुस्तान संवाद

तहसील अधविक्ता के उत्पीड़न को लेकर बुधवार को तीसरे दिन भी वकीलों की हड़ताल जारी रही। हड़ताल के चलते वादकारियों को भारी दिक्कतें उठानी पड़ रही हैं। तहसील के अधविक्ता रामपाल सिंह चौहान के विरूद्ध पेशबंदी में प्रदेश की सत्ताधारी पार्टी के तथाकथित नेताओं के दबाव में दर्ज कराए गए लूट के मुकदमें को लेकर अधविक्ताओं का गुस्सा थम नहीं रहा है।

तहसील बार एसोसिएशन के आहवान पर प्रकरण को लेकर चल रही वकीलों की हड़ताल बुधवार को तीसरे दिन भी जारी रही। सपा जिलाध्यक्ष के दखल के बाद अधविक्ताओं में सपा के प्रति भी नाराजगी तीखी होने लगी है। और अधविक्ता प्रकरण में सपा के सियासतदारों का यदि यही रवैया रहा तो वकीलों के भी सपा के विरूद्ध खुलकर खड़े हो जाने की बात से इंकार नहीं किया जा सकता है। अधविक्ताओं की हड़ताल के चलते न्यायिक कार्य प्रभावित होने से वादकारी बेहद परेशान हो रहे हैं।

अधविक्ताओं के कामकाज से विरत रहने के कारण बैनामा के साथ तहसील संबंधी विभिन्न कामकाज बाधित है। हड़ताल के चलते तहसील बार एसोसिएशन के अध्यक्ष रामकिशोर शुक्ला के साथ पूर्व अध्यक्ष मुरारीलाल यादव, महामंत्री मनोज तिवारी, अमरेश सिंह सेंगर, सत्यभान सिंह शाक्य, अरविन्द दुबे, यादवेन्द्र शरण त्रिवेदी, राना सिंह सेंगर, शीलू शाक्य, विजय अग्नहिोत्री, कुलदीप सिंह कुशवाह, रवीन्द्र पाण्डेय आदि अधविक्ता स्थानीय बार हाल में मौजूद रहे। क्या कहते हैं जिम्मेदार?मामले की पूरी जानकारी नहीं है। मेरा नाम बेवजह लिया जा रहा है।

मैंने एसडीएम को मामले का निपटारा करने के लिए कहा था। मगर किन्ही करणवश नहीं हो सका। मैं गुरूवार को बिधूना जाऊंगा और मामले में बैठकर बातचीत करूंगा। किसी के साथ भी ज्यादती नहीं होने दी जाएगी। शविनाथ सिंह, जिलाध्यक्ष सपा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:वकीलों की हड़ताल तीसरे दिन भी जारी रही