DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कांग्रेस दब्बू किस्म की पार्टी : प्रो. रामगोपाल

फिरोजाबाद/एका, हिन्दुस्तान संवाद। जनपद के कस्बा एका में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय महासचवि प्रोफेसर रामगोपाल यादव कांग्रेस पर जमकर बरसे। यहां तक कि उन्होंने कांग्रेस को दब्बू किस्म की पार्टी तक बता डाला। साथ ही भाजपा भी सपा महासचवि के निशाने पर रही।

बुधवार को जसराना विधान सभा क्षेत्र के अंतर्गत कस्बा एका स्थित एसपीजी इंटर कालेज में पार्टी की विकास रैली में प्रोफेसर रामगोपाल ने कहा कि कांग्रेस के शासन में देश की सीमाओं पर अतिक्रमण हो रहा है। चीन ने हमारी सीमाओं के भीतर अपने तम्बू गाड़ दिए लेकिन कांग्रेस की यूपीए सरकार ने उन्हें रोकने की कोशशि तक नहीं की। इसी तरह अमेरिका ने राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का अपमान किया। यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री आजम खां को जामा तलाशी के नाम पर अपमानित किया गया फिर भी केन्द्र खामोश रहा।

इसके बाद अब अमेरिका ने भारतीय राजनयिक देवयानी का भी घोर अपमान कर दिया। भारतीय विदेश सेवा की वरिष्ठ अफसर देवयानी के हाथों में हथकड़ी तक पहना दी गई। फिर भी केन्द्र सरकार मौन है। उन्होंने कहा कि चाहे कोई देश भारत की आन बान शान के खिलाफ हरकतें करता रहे, यूपीए सरकार कोई सख्त कदम नहीं उठाती है। इसकी वजह है कि कांग्रेस दब्बू और कमजोर किस्म की पार्टी है। सपा महासचवि ने कांग्रेस के साथ ही भाजपा को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि केन्द्र में कांग्रेस या बीजेपी के आने पर देश कमजोर रहेगा।

उन्होंने कहा कि संसद में जब हमला हुआ अटल बिहारी वाजपेयी प्रधानमंत्री थे। उन्होंने घटना से पूर्व आतंकी हमले की आशंका जताई थी, लेकिन फिर भी वे संसद पर हमला रोक नहीं सके। इसी तरह भाजपा की सरकार में ही पाकिस्तान कारगिल में सैकड़ो वर्गफीट जमीन पर कुंडली मारकर बैठ गया लेकिन भाजपा सरकार पाक को मुंहतोड़ जवाब तक नहीं दे सकी। प्रोफसेर रामगोपाल ने कटाक्ष करते हुए कहा कि जब मुलायम सिंह प्रधानमंत्री बनने के करीब होते हैं, भाजपा और कांग्रेस दोनों एक हो जाते हैं लेकिन अब लोकसभा चुनाव बाद इन दोनों के अलावा तीसरी पार्टी सत्ता में आएगी।

उन्होंने कहा कि चुनाव बाद तीसरे मोर्चे का गठन होगा। वहीं यदि सपा के सांसद अधिक हुए तो मुलायम सिंह यादव प्रधानमंत्री बन जाएंगे। सपा नेता ने क्षेत्र के लोगों की भावनाएं छूते हुए कहा कि पूर्व में सपा मुखिया जसराना से लीड लेकर ही रक्षा मंत्री बने थे। अब वे अपने पुत्र अक्षय को जनता के हवाले छोड़ रहे हैं। इसे भारी मतों से जिताकर संसद की दहलीज तक पहुंचा देना, इससे मुलायम सिंह यादव के हाथ मजबूत होंगे।

उन्होंने कहा कि सपा सरकार सूबे के शिक्षित युवाओं के लिए बड़े पैमाने पर नौकरियों की घोषणा करने वाली है। मुख्यमंत्री युवाओं की तरक्की पर खासा ध्यान दे रहे हैं। जनसभा में सपा जिलाध्यक्ष अजीम भाई, जिला पंचायत अध्यक्ष रमेश चन्द्र चंचल, फरुखाबाद विधायक विजय सिंह, मैनपुरी सदर विधायक राजू यादव, विधायक जसराना रामवीर सिंह यादव, विधायक शिकोहाबाद ओम प्रकाश वर्मा, इंजीनियर राजीव यादव, चेयरमैन इटावा कुलदीप गुप्ता, मातादीन यादव, मधूलता यादव आदि ने अखिलेश सरकार की नीतियों का बखान किया।

सभा की अध्यक्षता श्रीनविास वाष्र्णेय ने की। संचालन शवि प्रताप यादव ने किया। इनसेट- प्रोफेसर को 11 लाख की थैली भेंट फिरोजाबाद। समारोह मंच पर रैली संयोजक डॉ. सुकेश यादव ने प्रोफेसर रामगोपाल को 11 लाख 51 हजार रुपए की थैली भेंट की। वहीं कृष्ण कृपा जीएस सेवादल की संचालिका गीता यादव ने रैली में पहुंची 400 महिलाओं को कम्बल वितरित किए। इनसेट- प्रोफेसर ने मीडिया पर किए प्रहार एका। सपा महासचवि प्रोफेसर रामगोपाल यादव ने जनसभा के दौरान मीडिया पर करारे प्रहार किए।

उन्होंने कहा कि मीडिया द्वारा खबरों को तोड़ मरोड़ कर सपा के खिलाफ प्रस्तुत किया जाता है। यदि कोई छोटी घटना हो तो भी वह अखबारों में बड़े रूप में छापी जाती है। वहीं टीवी चैनल उसे दिन भर चलाते रहते हैं। लेकिन हमारे मतदाताओं पर अखबार या टीवी चैनलों का कोई असर नहीं पड़ता है। इनसेट- बिजली नहीं तो वोट नहीं फिरोजाबाद। जसराना से विकास रैली में भाग लेने एका जा रहे प्रोफेसर रामगोपाल को मुस्तफाबाद व नगला धनी में सपा का विरोध भी देखने को मिला।

इन स्थानों पर क्षेत्रीय लोगों द्वारा काले बैनर लगाए गए। दीवारों पर लिख दिया कि बिजली, सड़क का विकास नहीं तो फिर वोट भी नहीं। इस बात की चर्चा जनसभा के दौरान भी की गई।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:कांग्रेस दब्बू किस्म की पार्टी : प्रो. रामगोपाल