DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संगकारा का शतक, श्रीलंका का विशाल स्कोर

जोरदार फार्म में चल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज कुमार संगकारा (112) के जोरदार शतक से श्रीलंका ने पाकिस्तान के सामने 303 रन का चुनौतीपूर्ण लक्ष्य रखा। एशिया कप क्रिकेट टूर्नामेंट के सुपर फोर मैच में श्रीलंका के सी. कापूगेदरा तथा चामरा सिल्वा ने भी उपयोगी पारियां खेलीं। टूर्नामेंट में अपना दूसरा और करियर का नौवां शतक जमाने वाले संगकारा ने एक छोर संभालकर रखा। उन्होंने सूझबूझ तथा आक्रामकता के बेहतरीन संतुलन वाली पारी में 10 चौके और एक छक्का लगाया। इससे पहले उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ मैच में 101 रन की पारी खेली थी। संगकारा को कापूगेदरा और सिल्वा का अच्छा सहयोग मिला जिनके साथ उन्होंने क्रमश 88 और रन की मजबूत साझेदारियां करके बड़े स्कोर की आधारशिला रखी। पाकिस्तान की तरफ से बाएं हाथ के स्विंग गेंदबाज सोहेल तनवीर ने अपने करियर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए पांच विकेट झटके।ड्ढr इससे पहले टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने के लिए आमंत्रित किए गए श्रीलंका की शुरुआत अच्छी नहीं रही। उसके विस्फोटक बल्लेबाज सनत जयसूर्या महज आठ रन बनाकर सोहेल तनवीर की गेंद पर पगबाधा आउट करार दिए गए। श्रीलंका को दूसरा झटका भी तनवीर ने ही दिया जब उन्होंने कप्तान माहेला जयवर्धने 62 रन के कुल स्कोर पर मिस्बाह उल हक के हाथों कैच आउट कराया। इसके बाद संगकारा और कापूगेदरा ने पारी को संभालते हुए सूझबूझ भरी बल्लेबाजी की। दोनों ने स्कोर को 150 तक पहुंचाया। इस स्कोर पर कापूगेदरा (43) अपनी एकाग्रता खो बैठे और मंसूर अमजद की एक गेंद पर छक्का मारने की कोशिश में डीप मिडविकेट पर यूनुस खान को कैच थमाकर पैवेलियन लौट गए। उन्होंने 58 गेंदों की अपनी पारी में दो चौके और दो जोरदार छक्के लगाए। इसके बाद बल्लेबाजी करने उतरे चामरा सिल्वा ने संगकारा के साथ मिलकर तेजी से रन जुटाए। दोनों बल्लेबाज स्कोर को 243 रन तक ले गए। सिल्वा ने 48 गेंदों में पांच चौकों की मदद से 46 रन बनाए और वह तनवीर का तीसरा शिकार बने। स्कोर में अभी 28 रन और जुडे. थे कि संगकारा भी तनवीर की गेंद पर बोल्ड हो गए। अंतिम ओवरों में टी. मिरांडो ने लम्बे हाथ दिखाते हुए 20 गेंदों में दो चौके एवं एक छक्का लगाते हुए 28 रन बनाए और श्रीलंका 302 रन बनाने में कामयाब रहा। पाकिस्तान की तरफ से रियाज और अमजद ने एक-एक विकेट लिया। सोहेल तनवीर के अलावाो बाकी पाकिस्तानी गेंदबाज अपना प्रभाव छोड़ने में असफल रहे। पाकिस्तान को तेज गेंदबाज उमर गुल की कमी बेहद खली। गुल पसलियों के पास मांसपेशियों में चोट के कारण पूर टूर्नामेंट से बाहर हो चुके हैं। उनके बदले एकादश में शामिल वहाब रियाज की गेंदबाजी में वह आग नहीं दिखी। जबकि अपना पदार्पण करने वाले लेग स्पिनर मंसूर अमजद भी उतने घातक नहीं दिखायी दिये। उन्हें ऑलराउंडर फवाद आलम की जगह शामिल किया गया था। श्रीलंका और भारत क्वालीफाइंग दौर से अतिरिक्त अंक लेकर सुपर फोर दौर में पहुंचे हैं जिससे पाकिस्तान पहले ही खतर में है। पाकिस्तान को फाइनल की होड़ में बने रहने के लिए यह मैच जीतना जरूरी है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संगकारा का शतक, श्रीलंका का विशाल स्कोर