DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मिशन मोदी पर गांव-गांव दौड़े भाजपाई

 बरेली। वरिष्ठ संवाददाता

नरेंद्र मोदी की बरेली रैली की तारीखें भले ही आगे बढ़ गई हो मगर भाजपाई मशिन मोदी के लिए गांव-गांव दौड़ रहे हैं। गुजरात में सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा के लिए लौह संग्रहण की मुहिम में बुधवार को पूर्व मंत्री धर्मेन्द्र कश्यप ने अपने गांव कांधरपुर में भीड़ जुटाई।

वहीं, सीबीगंज के गांव बादशाहनगर में भाजपाइयों ने लौह संग्रहण कार्यक्रम किया। दोनों ही जगहों पर सबको मोदी मंत्र बताए गए। साथ ही बरेली में प्रस्तावित मोदी की रैली में शामिल होने के न्यौते भी दिए गए। कांधरपुर में आयोजित कार्यक्रम में धर्मेन्द्र कश्यप ने कहा कि देश में भाजपा की हवा चल रही है। पांच राज्यों के चुनाव परिणाम सामने आने के बाद यह साफ हो गया है कि विरोधी ताकतों का आगामी चुनाव में सफाया हो जाएगा। देश को एकता के सूत्र में पिराने वाले सरदार वल्लभ भाई पटेल की विशालकाय प्रतिमा बनाने के नरेन्द्र मोदी के संकल्प को पूरा करने के लिए हर गांव, हर आदमी को कोशशि करनी होगी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार ने कहा कि मोदी प्रधानमंत्री बनेंगे तो देश में विकास और खुशहाली की हवा चलेगी। संग्रहण समिति के संयोजक पूर्व विधायक छत्रपाल गंगवार, जिलाध्यक्ष राजकुमार शर्मा, महानगर अध्यक्ष पुष्पेन्दु शर्मा, भाजपा नेता अनिल सक्सेना, अधीर सक्सेना, राहुल गुप्ता ने लोगों से सबको पार्टी से जोड़ने की अपील की। बाद में खिचड़ी भोज हुआ। इस दौरान बड़ी संख्या में लोग मौजूद रहे। कांग्रेस से मुक्ति दिलाने का वक्त : गंगवारबादशाह नगर में हुए कार्यक्रम में संतोष गंगवार ने कहा कि आजादी का कैलेंडर इस साल खुद को दोहरा रहा है।

देश को कांग्रेस से मुक्ति दिलाने का वक्त आ गया है। लोहा-मिट्टी जुटाने के लिए गांव-गांव जा रहे कार्यकर्ता लोगों को भाजपा की नीतियों के बारे में भी बताएं। शहर से गांव तक हर आदमी नरेन्द्र मोदी को प्रधानमंत्री बनते देखना चाहता है। हमें बस उनकी राह आसान करनी है। इस मौके पर वीरेन्द्र गंगवार वीरू, हर्षवर्धन आर्या, डॉ. डीसी वर्मा, शविलोचन उपाध्याय, रमेश चंद्र फौजी, पवन शर्मा, आशीष अग्रवाल, वीरपाल कश्यप, उदयभान कटहिा आदि मौजूद रहे। फोटो-- मोहित और दीप।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:मिशन मोदी पर गांव-गांव दौड़े भाजपाई