DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

नए साल का स्वागत

बीते साल हमने अनेक ऊंचाइयों को छुआ, अनेक कीर्तिमान रचे, बहुत उपलब्धियां अर्जित कीं। बीता हुआ समय अच्छे के लिए याद किया जाएगा। अब नए साल वर्ष ने दस्तक दी है और हमें आने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए तैयार रहना होगा। हम सभी अपने-अपने क्षेत्र में इतिहास रचने के लिए तैयार रहें। हमारे सहयोग से ही देश भ्रष्टाचार से मुक्त हो सकता है। हम चाहें, तो देश का नाम पूरी दुनिया में रोशन हो जाएगा, बस दृढ़ इच्छाशक्ति और मेहनत की जरूरत है। जरूरत है, हमें कुछ कर गुजरने की शपथ लेने की, पुरानी गलतियों से सबक सीखने की। हम उम्मीद करते हैं कि नूतन वर्ष में हमारा देश खूब तरक्की करेगा और नई-नई ऊंचाइयों को स्पर्श करेगा। नव वर्ष सभी को मंगलमय हो।
शकील जावेद, सुरजन नगर, मुरादाबाद

वायदा निभाया
खुशी की बात है कि आम आदमी पार्टी ने 700 लीटर मुफ्त पानी का वायदा पूरा कर दिया है। मगर कई लोगों के यहां पानी की सप्लाई नहीं है, इसके लिए जल्द प्रयास करने होंगे। यह भी सुनिश्चित हो कि जो पानी आए, वह साफ और पीने लायक हो। लेकिन सब सरकार के बस की बात नहीं। पानी के उचित संरक्षण, वितरण और नियंत्रण से इस समस्या से निपटा जा सकता है। बरसात के दिनों में यमुना में बाढ़ आ जाती है। यह बेहिसाब पानी बिना संरक्षण के बेकार चला जाता है, इस तरफ ध्यान देना होगा। गंदे नालों के पानी को भी साफ करके खेती के काम में इस्तेमाल किया जा सकता है। आम आदमी पार्टी ने बिजली के दाम आधे कर अपना दूसरा वायदा भी पूरा किया है।  बिजली कंपनियों के खातों की जांच कराकर और बिजली चोरी रोककर निर्बाध बिजली आपूर्ति मुमकिन है।
वेद मामूरपुर, नरेला, दिल्ली

बढ़ रही है अपराध दर
झारखंड की राजधानी रांची में हटिया का नाम गौरव से लिया जाता है, क्योंकि हटिया में एशिया का बेहतरीन प्रतिष्ठान एचईसी बना हुआ है। हटिया से महज डेढ़ किलोमीटर की दूरी पर सचिवालय स्थित है। यहीं से पूरा झारखंड नियंत्रित होता है। लेकिन खेद की बात यह है कि एक महीने के भीतर इस इलाके में कई चोरियां और दो हत्याएं हो चुकी हैं। इससे राज्य की स्थिति का भी अंदाजा लग जाता है। दरअसल, राज्य में भ्रष्टाचार और कुशासन के चलते अपराधियों के हौसले बुलंद हो गए हैं।
महाबीर साहू, रांची

नव वर्ष की अभिलाषा
नए साल का नया सवेरा उतरे जब आंगन में/ नई चेतना संचारित हो, भारत के जन-जन में/ गुजरे साल हुए जो विफल और जो निराश/ उनको देना बड़ी सफलता, ध्वस्त न हो जीवन की आस/ सूरज जितना चमक रहा है उतना ही हम चमकें/ अंधियारा हो जब धरती पर चंदा बनकर दमकें / नया साल सबके जीवन में आए बारंबार/ और प्रभु की सब भेंटों का करें व्यक्त आभार/ बड़ों को देना  भारी भेंटें, छोटों को अद्भुत उपहार/ राशिद’ जुगनू की अभिलाषा रहे अमन से ये संसार।
राशिद हुसैन राही ‘जुगनू’

आम आदमी बने ईमानदार
आम आदमी ने दिल्ली की राजनीति में जो भूमिका निभाई है, वह काबिल-ए-तारीफ है। लेकिन जिस आम आदमी के कंधों पर सवार होकर आप दिल्ली में सत्ता के सिंहासन तक जा पहुंची है, वही आम आदमी क्या खुद को इसी राजनीतिक बदलाव के साथ बदलेगा? बड़े-बड़े नेताओं के घोटालों से आजिज आ चुका आम आदमी क्या ईमानदारी से अपना काम करेगा? क्योंकि, एक तरफ उसके नाम पर राजनीति करने वाली पार्टी कल्याणकारी योजनाएं चलाएंगी, तो आम आदमी से भी ईमानदारी की अपेक्षा उसे जरूर रहेगी।
अंकित मुतरेजा, खानपुर, दिल्ली

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:नए साल का स्वागत