DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

बारिश भी नहीं डिगा सकी हौसला

रविवार को सबेर तेा बारिश भीोीवनदायिनी गोमती की सफाई करने उतरोाबाांों का हौसला न डिगा सकी। छठ पर्व पर सूर्य को अघ्र्य देकर अपने और आदि गंगा के सदैव गतिमान रहने की कामना करने वाले भोपुरी समाा के आह्वान पर लोग भीगते हुए पहुँचे। करीब दो घंटे तक प्रतीक्षा के बाद ौसे ही बारिश थमी तो युवा-बुाुर्ग सभी अपने संकल्प को पूरा करने में लग गए। किसी ने हाथ से तो किसी ने पाँचा से नदी की प्रवाह को रोकेोलकुंभी को निकाल फेंका। सामाािक संगठनों केोबे और राय सलाहकार परिषद के अध्यक्ष सतीश चंद्र मिश्र से शनिवार को मिले स्पष्ट निर्देश के बाद नगर निगम के अफसरों ने भी बारिश की परवाह नहीं की। अपर नगर आयुक्त एसी सिन्हा ने अपनी टीम के साथ कुड़ियाघाट से लेकर शहीद स्मारक तक का मुआयना किया।ड्ढr भोपुरी समाा के प्रभुनाथ राय के साथ बीके श्रीवास्तव, अरुण गुप्ता, मनो सिंह, अरुण कुमार सिंह, दिनेश तिवारी, डा.मोहन लाल,ओपी त्रिपाठी, शिवशंकर सिंह, ो.अंसारी, तीर्थ राम्, अंबिका सिंह, राम रतन यादव समेत कई कार्यकर्ताओं ने मिलकर देखते-देखते छठ घाट के सामने माँ का आँचल साफ कर डाला। करीब घंटे भर की कड़ी मेहनत के बाद समाा के लोग अगले रविवार को पुन: आने का संकल्प लेकर वापस हो गए। अपर नगर आयुक्त का निरीक्षण के ही समय उनका नदी में आ रहे मैले से भी साबका हुआ। तेा बारिश के कारण नालों से तेा बहाव में आई पॉलीथिन, कूड़े-कचर को देख नगर निगम कर्मियों के हौसले पस्त हो गए। श्री सिन्हा ने बताया कि इस पर अंकुश लगाने के लिएोल्द ही गऊघाट के अपस्ट्रीम पर हीोाल लगेगा। इसके बादोाल पर ही नालों से नदी में आ रही गंदगी वोलकुंभी को साफ करना आसान होोाएगा। रविवार को ही बैकुण्ठधाम के पासोलकुंभी केोाल को हटाने के लिए नगर निगम ने दो मशीनें भी लगाईं। इससे समूचे क्षेत्र कोोलकुंभी को हटाने का काम और तेाी आई। हालाँकि, अपर नगर आयुक्त श्री सिन्हा का कहना है कि ये मशीनें सभीोगह नहीं लग सकती हैं। इस वाह से नगर निगम अपने श्रमिकों के सहार ही दसोुलाई तकोलकुंभी को हटाने का काम पूरा करगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: बारिश भी नहीं डिगा सकी हौसला