DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सौर ऊर्जा से वातावरण के बदलावों से निपटेगा भारत

प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा कि भारत सौर ऊर्जा का उत्पादन कर वातारण में आ रहे बदलाव से निपटेगा। उन्होंने वातावरण में हो रहे परिवर्तन से निपटने के लिए सोमवार को राष्ट्रीय कार्य योजना की घोषणा करने के दौरान यह बात कही। गौरतलब है कि इस कार्य योजना की घोषणा तीन बार टाली जा चुकी थी। प्रधानमंत्री ने तीव्र आर्थिक वृद्धि की आवश्यकता पर बल दिया लेकिन साथ ही यह भी कहा कि इसका पारिस्थितिकी के विकास से टकराव नहीं है। उन्होंने कहा कि यह योजना बहस के लिए खुली है लेकिन सरकार इसे लागू करने में तनिक भी देर नहीं करेगी। यह योजना आठ राष्ट्रीय योजनाओं का सम्मिलित रूप है। जिसमें सौर ऊर्जा, जल संरक्षण और हरित भारत का निर्माण प्रमुख हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि हम अपनी वैज्ञानिक, तकनीकी और प्रबंधकीय प्रतिभा का उपयोग उचित वित्तीय संसाधनों के साथ सौर ऊर्जा के विकास में करेंगे ताकि हम लोगों का जीवन बदल सकें। उन्हें स्वच्छ जल, ताजी हवा और हरा-भरा वातावरण मिल सके। उन्होंने कहा कि सौर ऊर्जा भारत का चेहरा बदल देगी। इससे भारत की ओर विश्व के कई हिस्सों के लोग आकर्षित होंगे। इस कार्य योजना का इंतजार विश्व के कई देशों को था। क्योंकि कई औद्योगिक देशों ने ग्रीन हाऊस गैसों के उत्सर्जन में यह कह कर कटौती नहीं करने का फैसला किया था कि पहले भारत और चीन को ऐसा करने के लिए तैयार होना चाहिए चीन ने अपनी कार्य योजना पिछले साल जारी की थी लेकिन ग्रीन हाऊस गैसों के उत्सर्जन में कटौती करने जैसा कोई संकेत नहीं दिया था।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: सौर ऊर्जा से वातावरण के बदलावों से निपटेगा भारत