DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

फेडरर और विलियम्स बहनें क्वार्टर फाइनल में

विश्व के नम्बर एक खिलाड़ी रोजर फेडरर ने अपना विजय अभियान शाही अंदाज में बरकरार रखते हुए विम्बलडन टेनिस चैम्पियनशिप के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया। किंग फेडरर ने ऑस्ट्रेलिया के लेटन ह्युइट को सोमवार को लगातार सेटों में 7-6, 6-2, 6-4 से ध्वस्त किया। अमेरिका की विलियम्स बहनों गत चैमिपयन वीनस और पूर्व चैम्पियन सेरेना ने अपने-अपने मुकाबले आसानी से जीत कर क्वार्टर फाइनल में जगह बना ली। लेकिन दूसरी वरीयता प्राप्त सर्बिया की एलेना यांकोविच को गैर वरीयता प्राप्त थाईलैंड की तामरीन तानसुगर्न के हाथों पराजित होकर टूर्नामेंट से बाहर हो जाना पड़ा। सातवीं वरीयता प्राप्त वीनस ने रूस की एलिसा क्लेबानोवा को 6-3, 6-4 से और छठी वरीयता प्राप्त सेरेना ने हमवतन बेथानी माटेक को 6-3, 6-3 से पराजित किया। महिला वर्ग के एक और बड़े उलटफेर में यांकोविच को तानसुगर्न ने 6-3, 6-2 से धो दिया। रिकार्ड लगातार छठे खिताब की तलाश में लगे टॉप सीड स्विट्जरलैंड के फेडरर को हालांकि पहले सेट में ह्युइट से कुछ चुनौती मिली। लेकिन उसके बाद ग्रास कोर्ट के बेताज बादशाह ने ऑस्ट्रेलिया के ह्युइट को फिर कोई मौका नहीं दिया। फेडरर के लगातार पांच विम्बलडन खिताब जीतने से पहले ह्युइट ने 2002 में यह खिताब जीता था। बीसवीं वरीयत प्राप्त ह्युइट ने इस मुकाबले से एक दिन पहले फेडरर को चुनौती देने की उम्मीद जताई थी। ह्युइट ने पहले सेट में संघर्ष किया मगर उसके बाद उनका संघर्ष दम तोड़ गया। फेडरर ने सेंटर कोर्ट पर पहले सेट का टाई ब्रेक 1किमी प्रति घंटे की सर्विस झोंकते हुए से जीत लिया। इसके बाद ह्युइट के लिए फेडरर को रोकना मुश्किल हो गया। ग्रास कोर्ट के मास्टर ने इस सतह पर अपनी लगातार 63वीं जीत दर्ज कर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया। इस बीच महिला वर्ग में दूसरी वरीयता प्राप्त यांकोविच को सनसनीखेज पराजय झेलनी पड़ी। 31 वर्षीय तानसुगर्न यांकोविच पर जीत के साथ ही किसी ग्रैंड स्लैम टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली थाईलैंड की पहली खिलाड़ी बन गयीं। यांकोविच की हार के साथ महिला वर्ग में तीन टॉप सीड खिलाड़ी टूर्नामेंट से बाहर हो चुकी हैं। टॉप सीड एना इवानोविच और तीसरी वरीयता प्राप्त मारिया शारापोवा पिछले सप्ताह टूर्नामेंट से बाहर हुई थीं। 1में सीडिंग शुरू किए जाने के बाद से यह पहला मौका है कि महिला वर्ग में तीन शीर्ष खिलाड़ी क्वार्टर फाइनल में नहीं पहुंच सकी हैं। चार बार की चैम्पियन वीनस ने पावर गेम का एक और प्रदर्शन करते हुए रूस की युवा खिलाड़ी एलिसा क्लेबानोवा को कोर्ट दो पर धो दिया। सातवीं वरीयता प्राप्त वीनस ने 18 वर्षीय क्लेबानोवा के खिलाफ शुरुआत से ही आक्रामक खेल दिखाया। वीनस ने पहले सेट के आठवें गेम में रूसी खिलाड़ी के तीन डबल फॉल्ट का फायदा उठाते हुए सर्विस ब्रेक हासिल कर लिया। उन्होंने पहला सेट 6-3 से जीत लिया। मैच दर मैच अपना प्रदर्शन सुधारती जा रही वीनस ने दूसरे सेट में जल्द ही 5-2 की बढ़त बना ली। क्लेबानोवा ने इस स्कोर पर दो मैच अंक बचाए और वीनस की सर्विस तोड़ दी। रूसी खिलाड़ी ने नौवें गेम में अपनी सर्विस शून्य पर बरकरार रखी। लेकिन वीनस ने दसवां गेम जीतकर मैच समाप्त कर दिया। वीनस का क्वार्टर फाइनल में तानसुगर्न के साथ मुकाबला होगा। चौथे दौर के अन्य मैचों में 18वीं वरीयता प्राप्त चेक गणराय की निकोल वैदीसोवा ने आठवीं वरीयता प्राप्त रूस की अना चकवेताद्जे को 4-6, 7-6, 6-3 से और गैर वरीयता प्राप्त चीन की झेंग जेई ने हंगरी की एग्ंलेस सजावी को 6-3, 6-4 से हराया। क्वार्टर फाइनल में झेंग का मुकाबला वैदीसोवा से होगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: फेडरर और विलियम्स बहनें क्वार्टर फाइनल में