अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

लैंडमाइन विस्फोट में डीएसपी शहीद

तमाड़ थाना क्षेत्र के पुण्डीदिरी में उग्रवादियों ने सोमवार को बारूदी सुरंग विस्फोट कर बुंडू के पुलिस उपाधीक्षक (डीएसपी) प्रमोद कुमार समेत चार जवानों को उड़ा दिया। घटना शाम सवा चार बजे की है। सूचना मिलते ही बुंडू और रांची से अतिरिक्त फोर्स मौके पर भेजी गयी। देर शाम पुलिस सभी शवों को लेकर तमाड़ थाना पहुंची। रूरल एसपी के नेतृत्व में पुलिस छापामारी अभियान चला रही है। शहीद डीएसपी बिहार के मुंगेर जिले के मूल निवासी थे। फिलहाल उनका परिवार जामताड़ा में रह रहा है।ड्ढr ड्ढr सूत्रों के अनुसार यहां से तकरीबन 45 किलोमीटर दूर खूंटी जिले के बुंडू अनुमंडल के तमाड़ के ग्रामीण इलाकों से पुलिस और एसटीएफ जवानों की एक टुकड़ी लांग रंज पेट्रोलिंग कर लौट रही थी। रांची-टाटा हाइवे से महज पांच किलोमीटर भीतर लिंक रोड पर पुण्डीदिरी पुलिया के पास जैसे ही पुलिस की बोलेरो जीप पहुंची। जबरदस्त धमाका हुआ। जीप के परखच्चे उड़ गये। मौके पर ही डीएसपी और उनके दो बॉडीगार्ड और ड्राइवर मार गये। मृत बॉडीगार्ड में एक का नाम एन दास है जबकि चालक का नाम कन्हैया सिंह बताया जाता है। विस्फोट के बाद सड़क के दोनों किनार पोजीशन लिये उग्रवादियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी। इसमें एक जवान गंभीर रूप से घायल हुआ। पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की । दोनों ओर से करीब 45 मिनट तक फायरिंग होती रही। इसके बाद उग्रवादी पीछे हटने लगे। डीएसपी प्रमोद कुमार ने एक तेज-तर्रार पुलिस अफसर के रूप में उन्होंने अपनी पहचान बनायी थी। हाल ही में उन्हें झारखंड की नवगठित स्पेशल टास्क फोर्स (एसटीएफ) में तैनात किया गया था। मुख्यमंत्री मधु कोड़ा और पुलिस महानिदेशक वीडी राम ने पुलिस जवानों की मौत पर दुख जताया और इसे उग्रवादियों की कायरतापूर्ण कार्रवाई बताया। गया में ग्रामीण का घर उड़ायाड्ढr वजीरगंज (गया) (नि.सं.)।भाकपा-माओवादी के हथियारबंद दस्ते ने रविवार की रात मंगरावां गांव पर धावा बोलकर शिववचन यादव के खपड़ैल का मकान उड़ा दिया। नक्सली दस्ते ने शिववचन यादव के भाई बिन्देश्वर यादव को अगवा कर लिया तथा घर को उड़ाने से पूर्व कीमती सामान लूट लिए। नक्सली हमले के बाद वहां पहुंची पुलिस ने एक जिंदा केन बम बरामद किया और नक्सलियों के पकड़ने के लिए छापेमारी शुरू की । गया से हि.प्र. के अनुसार डीएसपी राजवंश सिंह ने बताया कि हमलावरों को पकड़ने के लिए छापेमारी की जा रही है, लेकिन अभी सफलता नहीं मिली है। उन्होंने बताया कि शिववचन यादव का अपने गांव के एक प्रजापति परिवार से लंबे समय से विवाद है। इस झगड़े में तीन हत्याएं हो चुकी है। हाल में पांच लोगों को आजीवन कारावास की सजा भी हुई। उन्होंने कहा कि उक्त कारणों से ही शिववचन यादव के घर पर हमला होना प्रतीत हो रहा है। औरंगाबाद में मुठभेडड़्ढr देव (औरंगाबाद) (ए.सं.)। देव प्रखंड के ढ़िबरा थाना क्षेत्र के पथरा पहाड़ पर सोमवार की शाम पांच बजे नक्सलियों तथा पुलिस के बीच जमकर मुठभेड़ हुई। पुलिस के अनुसार इस मुठभेड़ में कम से कम एक नक्सली के मार जाने की संभावना है पर अभी उसका शव बरामद नहीं हो सका है। डीएसपी अंजनी कुमार सिन्हा के अनुसार पुलिस बल पथरा गांव के नियमित गश्त के क्रम में गया था तभी पुलिस बल पर पहाड़ की ओर से पुलिस पर गोलियां चलने लगी। जवाब में पुलिस ने भी लगभग 40 चक्र गोलियां दागी। नक्सलियों द्वारा पुलिस पर लगभग 100 चक्र गोलियां दागी गईं। इस मुठभेड़ में कोई पुलिसकर्मी घायल नहीं हुआ। समाचार लिखे जाने तक मुठभेड़ समाप्त हो गई है और पुलिस बल मुठभेड़ स्थल को घेर खड़ा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: लैंडमाइन विस्फोट में डीएसपी शहीद