अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

परिमार्जन को फिलाडेल्फिया शतरंज खिताब

युवा परिमार्जन नेगी ने शतरंज की बिसात पर अपनी श्रेष्ठता सिद्ध करते हुए फिलाडेल्फिया इंटरनेओपन शतरंज खिताब जीत लिया। इस टूर्नामेंट में नेगी ने टॉप सीड सूर्यशेखर गांगुली तक को शिकस्त दी। शतरंज इतिहास के दूसरे सबसे युवा ग्रैंडमास्टर नेगी (252ने फाइनल राउंड में महिला ग्रैंडमास्टर ईशा करवाडे के साथ जसे ही हाथ मिलाया उनका चैंपियन बनना तय हो गया। इस टूर्नामेंट में पांच देशों के 3शतरंज खिलाड़ी हिस्सा ले रहे थे। इसमें 14 भारतीय थे। नेगी 7 अंकों के साथ चैंपियन बने। उन्हें 2000 हजार अमेरिकी डॉलर मिले। टूर्नामेंट में नेगी ने अभिजीत कुंटे (2554) और जीएन गोपाल (2572) को भी हराया। यह नेगी के लिए वाकई बड़ी उपलब्धि है। इसी साल नेगी लक्जमबर्ग में खेले गए कॉपथिंग ओपन में रोमानिया के आंद्रेइ इस्त्रातेस्कू के साथ जॉइंट विजेता रहे थे। टूर्नामेंट में नेगी को रोकने वाले जीएम ए. अरुण प्रसाद (24अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: परिमार्जन को फिलाडेल्फिया शतरंज खिताब