DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पारा शिक्षकों को उचित मानदेय नहीं

राज्य के पारा शिक्षकों को निर्धारित मानदेय का भुगतान नहीं किया जा रहा है। इससे उनमें आक्रोश बढ़ रहा है। इसकी सूचना मिलते ही राज्य परियोजना निदेशक ने शिक्षा पदाधिकारियों को निर्धारित मानदेय के अनुसार ही भुगतान करने को कहा है। साथ ही तय मानदेय की सूची भी जिलों को भेजी गयी है।ड्ढr परियोजना निदेशक राजीव अरुण एक्का ने स्पष्ट कहा है कि पारा शिक्षकों का मानदेय उसकी शैक्षणिक योग्यता और ट्रेनिंग के आधार पर निर्धारित किया गया है, जबकि जिलों में मानदेय भुगतान का आधार कला और विज्ञान संकाय भी माना जा रहा है। यह गलत है। पारा शिक्षकों की अंतरराशि का भुगतान भी किया जाये। यह भी स्पष्ट है कि मानदेय भुगतान का निर्धारण प्राथमिक और उच्च प्राथमिक स्कूल में पदस्थापन के अनुसार किसी भी हाल में नहीं किया जाये। ऐसी शिकायत मिलने पर संबंधित पदाधिकारियों पर कार्रवाई की जायेगी। पारा शिक्षकों का निर्धारित मानदेयड्ढr स्नातक प्रशिक्षित (कलाविज्ञान) 3500 रुपयेड्ढr स्नातक अप्रशिक्षित (कलाविज्ञान)3000 रुपयेड्ढr इंटर प्रशिक्षित (कलाविज्ञान)3000 रुपयेड्ढr इंटर अप्रशिक्षित (कलाविज्ञान)2500 रुपयेवाइंट

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पारा शिक्षकों को उचित मानदेय नहीं