DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

मैनपैक सेट के साथ मुस्तैद रहेंगे पुलिसकर्मी

जगन्नाथपुर रथ मेला के मद्देनजर पुलिस प्रशासन ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजमा किये हैं। मेला परिसर के चारो ओर आउट पोस्ट लगाया जायेगा, ताकि वाहनों के प्रवेश पर रोक लगायी जा सके। साथ ही पुलिस के कई जवान सादे लिबास में मैनपैक सेट के साथ तैनात रहेंगे। ये जवान किसी भी अप्रिय घटना की सूचना सीधे कंट्रोल रूम को देंगे। अग्निशमन विभाग को भी मेले में तैनात रहने को कहा गया है। पुलिस लाइन और थाना से पुलिसकर्मियों को लेकर पैदल गश्ती दल बनाये गये हैं। हटिया डीएसपी चंद्रशेखर प्रसाद को सुरक्षा का प्रभार दिया गया है।72 घंटे से पेयजलापूर्ति नहीं, त्राहिमामड्ढr इंद्रदेव तो मेहरबान हैं- जम कर हुई बारिश ने लोगों को तर-ब-तर कर दिया, लेकिन पेयजल विभाग के इंजीनियरों की लापरवाही ने हदें पार कर दी है। 72 घंटे से शहर की बड़ी आबादी पीने का पानी के लिए तरस रही है। बरियातू-हाउसिंग कॉलोनी समेत आधा दर्जन इलाकों में तीन दिन से जलापूर्ति ठप है। रविवार की सुबह बाद से पानी नहीं मिला है। एसडीए मिशन के पास पाइप फटने से यह स्थिति पैदा हुई है। अब तक मरम्मत का काम नहीं हुआ है। अब लोगों का धैर्य जवाब देने लगा है। हाउसिंग स्वर्ण जंयती क्लब के विपिन सिंह ने बताया है कि दो जुलाई को लोग सड़क पर उतरंगे।ड्ढr इधर एक-एक बाल्टी पानी के लिए हाहाकार मचा है। बच्चे स्कूल नहीं जा रहे। खाना बनाना - नहाना दुश्वार हो गया है। मुहल्लों में लगे इक्का- दुक्का खटारा चापाकल पर भोर से ही लोगों की भीड़ जमा हो जाती है। फिर ऊपर के तल्लों में पानी ले जाने की परशानी का अंदाजा लगाया जा सकता है। अब तो 50- 100 रुपये में लोग पानी का जार खरीदने को विवश हैं। हर किसी के चेहर पर पानी का टेंशन है। हाउसिंग कॉलोनी की किरण देवी, अनित देवी, डॉ गीता सिंह, शांति देवी, सरला बताते हैं कि जन-ाीवन अस्त व्यस्त है। विकट स्थिति देख दाइयों ने काम पर आना बंद कर दिया है। पीजी हॉस्टल की छात्राएं पानी के बिना हलकान हैं। स्थानीय पार्षद की पहल पर हाउसिंग - विवि कॉलोनी में छोटे टैंकर से पानी की आपूर्ति तो की गयी, लेकिन यह नाकाफी रहा।ड्ढr जिन इलाकों में जलापूर्ति नहीं हो रही : बरियातू, हाउसिंग- यूनिवर्सिटी कालोनी, जयप्रकाश नगर, बड़ागाईं, रानीबगान, कृष्णा नगर, श्रेया इनक्लेव रोड, हरिहर सिंह रोड, करमटोली, चेशायम होम रोड, अरविंद मार्ग और पंचवटीपुरम।ड्ढr 24 घंटे बाद मरम्मत शुरूड्ढr रविवार को ही पाइप फट जाने की जानकारी बूटी जलागार के इंजीनियरों को हो गयी थी, लेकिन मंगलवार को काम प्रारंभ हुआ। रविवार को ही काम शुरू कराया जाता, तो इतनी भयावह स्थिति पैदा नहीं होती। आला इंजीनियरों ने भी आदेश- निर्देश देकर अपनी जिम्मेदारी पूरी कर ली। बारिश का पानी घरों में घुसा

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: मैनपैक सेट के साथ मुस्तैद रहेंगे पुलिसकर्मी