अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

एमजीएसवाइ के लिए 300 करोड़ की जरूरत

राज्य में मुख्यमंत्री ग्राम सेतु योजना के लिए ग्रामीण विकास विभाग को 300 करोड़ रुपये की जरूरत है। बजट में इस वर्ष सिर्फ 115 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। पिछले वर्ष कुल 34पुल-पुलिया बनने थे। इनमें से 150 शेष रह गये हैं। इससे भी पहले की योजना के लगभग 30 पुल-पुलिये का निर्माण कार्य लंबित है। पिछले वर्ष 162 करोड़ रुपये दिये गये थे। पुरानी और नयी योजनाओं के लिए करीब 500 करोड़ रुपये चाहिए। लेकिन ग्रामीण विकास सचिव संतोष कुमार सत्पथी का कहना है कि फिलहाल 300 करोड़ रुपये से भी काम चल जायेगा।ड्ढr मंत्री एनोस एक्का ने कहा कि राज्य मुख्यालय से गांव तक परिवहन सुविधा उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री ग्राम सेतु योजना महत्वपूर्ण है। इसके बजट में कोताही नहीं करनी चाहिए। 2001 में योजना शुरू हुई थी। 554 बड़े और मध्यम पुलों का निर्माण आरंभ हुआ था। अब तक 352 करोड़ की लागत से 30 पुल बन चुके हैं। 150 पुलों के निर्माण पर काम चल रहा है। इस तरह 150 लंबित और 350 नये पुल बनाने के लिए 500 करोड़ रुपये चाहिए।ड्ढr सचिव संतोष कुमार सत्पथी ने कहा कि राज्य सरकार से अनुमति लेकर नाबार्ड या किसी अन्य संस्थागत बैंक से ऋण लिया जायेगा।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: एमजीएसवाइ के लिए 300 करोड़ की जरूरत