पैसे की ताकत को ध्वस्त करगी माले - पैसे की ताकत को ध्वस्त करगी माले DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पैसे की ताकत को ध्वस्त करगी माले

भाकपा-माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भटटचार्य ने बुधवार को पालीगंज के चंढोस, मुस्लिम बहुल सिगोड़ी और जमुई में रोड शो के बाद नुक्कड़ सभा की। दीपांकर ने पाटलीपुत्र सीट से पार्टी के प्रत्याशी रामेश्वर प्रसाद के पक्ष में अपील करते हुए कहा कि देश के अंदर यूपीए और एनडीए बिखर गया है। वामपंथ के पक्ष में लाल लहर चल रही है। उन्होंने रांन यादव को भगोड़ा बताया। साथ ही कहा कि छपरा और पाटलीपुत्र दोनों जगहों से लालू की लालटेन बुझेगी और बिहार में वामपंथी ताकत मजबूती से उभरगी।ड्ढr ड्ढr लाल झंडे की प्रतिष्ठा देशभर में बुंलद करने का आह्वान करते हुए माले महासचिव ने कहा कि पैसे की ताकत को माले मैन पावर से ध्वस्त करगी। इस दौरान विधायक एनके नंदा, माले नेता गोपाल रविदास, प्रत्याशी रामेश्वर प्रसाद, शिवपूजन यादव समेत सीपीआई और सीपीएम के कई नेताओं ने भी विचार रखे। फुलवारीशरीफ से सं.सू. के अनुसार माले के राष्ट्रीय महासचिव दीपंकर भट्टाचार्य ने कहा कि लालू के 15 साल और नीतीश के 40 माह के शासन से प्रदेश की गरीब जनता काफी परशान है। इस बार लालू प्रसाद का गठबंधन टूट गया है। लालूजी सारण के साथ पाटलीपुत्र सीट से भी चुनाव हार रहे हैं। अब उन्हें मुन्ना भाई की जरूरत महसूस होने लगी है।ड्ढr ड्ढr श्री भट्टाचार्य बुधवार को कुरथौल सहित कई ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को संबोधित कर रहे थे। बिहार की सभी पंचायतों में धान क्रय केंद्र के बदले उन्होंने गली-गली में शराब की दुकानें खोल दीं। अबतक बीपीएल सूची बनाने का काम पूर्ण नहीं हो सका। उत्तर बिहार के लोग जब बाढ़ की तबाही झेल रहे थे, उससमय भाजपा यहां बांग्लादेशी घुसपैठियों को भगाने का काम कर रही थी। उन्होंने शत्रुघ्न सिन्हा और शेखर सुमन का नाम लिए बिना कहा कि मुंबई हमले के समय बड़े-छोटे पर्देवाले बाल ठाकर की गोद में बैठे थे। अब चुनाव के समय बिहार प्रेम याद आ रहा है। उन्होंने कहा कि पहली बार देश में लाल झंडे के नीचे लोग एकाुट हुए हैं। उन्होंने भाकपा के पक्ष में आने का आग्रह किया है। इस मौके पर पूर्व मुखिया श्यामा प्रसाद, योगेंद्र प्रसाद यादव सहित कई लोग उपस्थित थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पैसे की ताकत को ध्वस्त करगी माले