अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खुशमिजाज होते जा रह हैं भारतीय

भारत विश्व का सबस अधिक खुश रहन वाल लागों का दश भल नहीं है, लकिन दुनिया भर मं हुए एक सर्वक्षण मं पता चला कि भारतीयों मं खुश रहन की प्रवृत्ति तजी स बढ़ रही है। अमरिका क राष्ट्रीय विज्ञान फाउंडशन द्वारा सहायता प्राप्त वर्ल्ड वैल्यू सर्व क अनुसार अपन लोकतंत्र, सामाजिक समानता और शांतिपूर्ण वातावरण क कारण डनमार्क दुनिया का सबस अधिक खुश रहन वाल लोगों का दश है।ड्ढr ड्ढr राजनीतिक संघर्ष क कारण कठिनाइयों स घिरा जिम्बाब्व इस सूची मं सबस नीच है। विश्व का सबस धनी दश अमरिका खुश रहन वाल लोगों की सूची मं 16वं नंबर पर है। सर्वक्षण क मुताबिक 1स 2007 क बीच 52 दशों मं किए गए अध्ययन स पता चला है कि उनमं स 45 दशों क लोगों क बीच खुश रहन की प्रवृत्ति बढ़ी है। भारत, आयरलैंड, मक्िसको, प्यूटरे रिको और दक्षिण कोरिया क लोगों क बीच खुश रहन की प्रवृत्ति काफी तजी स बढ़ी है। अध्ययन स साफ पता चला है कि शांति और प्रसन्नता क बीच बहुत गहरा संबंध है। जिन दशों क लोगों की प्रसन्नता मं वृद्धि हुई है उनमं र्अजटीना,कनाडा, चीन, फिनलैंड, फ्रांस, इटली, जापान, लक्ामबर्ग, नीदरलैंड, पोलैंड, दक्षिण अफ्रीका, स्पन और स्वीडन शामिल हैं। अमरिका, नार्व और स्विटारलैंड मं लोगों क खुश रहन का औसत पहल जितना ही है। कवल चार दशों आस्ट्रिया, बल्जियम, ब्रिटन और जर्मनी क लोगों मं खुश रहन की प्रवृत्ति मं गिरावट दर्ज की गई है।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खुशमिजाज होते जा रह हैं भारतीय