अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

खतरनाक दाँव

श्री अमरनाथजी श्राइन बोर्ड को जमीन दिए जाने के मामले में जो विवाद खड़ा हुआ है, उसने पहले ही काफी नुकसान कर दिया है और संघ परिवार उसे खुला सांप्रदायिक रूप देकर कोढ़ में खाज पैदा करने का काम कर रहा है। कश्मीर में इस मामले को लेकर जो विवाद हुआ उसमें दबी-ढकी सांप्रदायिकता तो थी लेकिन जाहिर नहीं थी और यह मामला कश्मीर तक ही सीमित था, संघ परिवार ने इसे राष्ट्रव्यापी सांप्रदायिक दरार बनाने का हथियार बना लिया है। कश्मीर की सांप्रदायिक आग में उसे देशभर में अपने लिए वोट दिखाई दे रहे हैं। यह निहायत गैरािम्मेदारी की राजनीति है। कश्मीर के एक मुद्दे को लेकर मुंबई और केरल तक तोड़फोड़ करने का औचित्य सिर्फ इस मामले को मुस्लिम विरोधी रंग देना है। कश्मीर की समस्या हमार देश की गंभीर और नाजुक समस्या है और इसमें बड़े पैमाने पर जन-धन की हानि हो चुकी है। सड़के रोकी गई, दुकाने बंद कराई गई, सत्ता का रास्ता ऐसे ही निकलता है। अब जाकर पिछले कुछ वक्त में बदली हुई राष्ट्रीय-अंतरराष्ट्रीय परिस्थितियों की वजह से कश्मीर में शांति की बहाली की उम्मीद नजर आने लगी है। श्री अमरनाथ जी श्राइन बोर्ड वाले विवाद के पीछे इसी बहाली की गति को रोकने की कोशिश थी। राष्ट्रव्यापी बंद करके विहिप और उसके दूसर सहयोगी संगठन भी कश्मीर की स्थिति को सामान्य करने में मदद नहीं कर रहे, बल्कि उसे ज्यादा कठिन बना रहे हैं। भाजपा एक बार केन्द्र में राज कर चुकी है और भविष्य में भी करने की उम्मीद पाले हुए है। उसे याद रखना चाहिए कि ऐसी गैरािम्मेदाराना राजनीति उसके लिए भी मुश्किल का सबब बन जाएगी, जब उसे राज करना होगा। आखिरकार हर जिम्मेदार राजनैतिक शक्ित को कश्मीर समस्या हल करने की कोशिश करनी चाहिए, उसे उलझाने की नहीं।ड्ढr ड्ढr ऐसा लग रहा है कि आने वाले चुनावों के मद्देनजर संघ परिवार अपने तरकश के सार तीर इस्तेमाल कर लेना चाहता है भले ही उसके परिणाम कितने ही खतरनाक क्यों न हों। इस पूर मुद्दे को विवादास्पद बनाने में भाजपा और उसके द्वारा नियुक्त पूर्व राज्यपाल की भूमिका असंदिग्ध है और अब उसे भुनाने के लिए भी वे ही आगे आ रहे हैं। कश्मीर समस्या का हल सौहार्द और समझदारी में है और यह लंबी प्रक्रिया है, जो लोग इसमें सहयोग नहीं देना चाहते, कम से कम वे अड़चनें तो न डालें।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: खतरनाक दाँव