DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

संगीनों के साये में हो रही पढ़ाई

राज्य के उग्रवादग्रस्त इलाकों के कई स्कूलों में छात्र संगीनों के साये में पढ़ाई कर रहे हैं। पुलिस के भय से छात्रों की उपस्थिति भी घटने लगी है। एक-दो कमरों में आठवीं तक की पढ़ाई हो रही है। शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की को यह स्थिति उग्रवाद प्रभावित इलाकों के दौर के क्रम में देखने को मिली।ड्ढr शिक्षा मंत्री बंधु तिर्की ने इस संदर्भ में सीएम को पत्र लिखा है। स्कूलों से पुलिस पिकेट हटाने की मांग की है। मंत्री ने कहा है कि स्कूलों में पुलिस पिकेट होने से शैक्षणिक माहौल बिगड़ रहा है। छात्र डर से स्कूल आने से कतराने लगे हैं। उन्होंने लिखा है कि अस्थायी तौर पर स्कूल भवन से पुलिस को हटा कर अन्यत्र ठहराने की व्यवस्था की जाये। सरकार शिक्षा का माहौल बनाने के लिए करोड़ों रुपये खर्च कर रही है। ऐसे में पुलिस पिकेट स्कूल में होने से शिक्षण कार्य प्रभावित हो रहा है। स्कूल में पुलिस रहने के कारण हमेशा हो-हल्ला होते रहता है। इससे संबंधित स्कूल में शैक्षणिक माहौल नहीं बन पा रहा है। मंत्री ने कहा कि पत्र पर त्वरित कार्रवाई नहीं हुई, तो वह व्यक्तिगत रूप से सीएम से मिलेंगे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: संगीनों के साये में हो रही पढ़ाई