DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

रांची पहाड़ी की दो एकड़ जमीन गायब

रांची पहाड़ी की दो एकड़ जमीन गायब हो गयी है। 10-11 में पालकोट राजा ने 11 रुपये में रांची नपा को 26 एकड़ 13 कड़ी लैंड ट्रांसफर की थी। उनकी शर्त थी कि पहाड़ी के ऊपर जो मंदिर है उसके दर्शन के लिए आने-ााने पर कोई रोक-टोक नहीं हो।ड्ढr राजा पालकोट द्वारा ट्रांसफर की गयी जमीन में से करीब दो एकड़ का पता नहीं चल पा रहा है। वर्तमान में रांची पहाड़ी 24.5 एकड़ में फैली है। इसमें दो एकड़ पर झुग्गी-झोपड़ी है। बीपीएल झोपड़ीवासी रो जलावन के लिए यहां के पेड़ों को काट रहे हैं। पानी के लिए पहाड़ी की पाइप लाइन को भी काट देते हैं। इससे तेज गति से स्रव के बाद मिट्टी का कटाव हो रहा है और पहाड़ी कमजोर हो रही है। झोपड़ी बनाने के लिए मिट्टी काटी जा रही है। 1तक 161 झोपड़ी थी, जो अब में 600 हो गयीं हैं। पहाड़ी की देखभाल के लिए नगर निगम की ओर से एक कर्मचारी महावीर प्रतिनियुक्त था। उसे तीन साल पहले हटा लिया गया। पहाड़ी की गायब जमीन के संबंध में पूछे जाने पर नगर निगम के अफसर बताते हैं कि पहाड़ी के पीछे पार्क के लिए 50 डिसमिल जमीन दी गयी थी। वहां चहारदीवारी कर कुछ पेड़ लगाये गये हैं। कुछ जमीन पर स्थानीय लोगों ने घर बना लिये हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: रांची पहाड़ी की दो एकड़ जमीन गायब