DA Image
28 मार्च, 2020|3:08|IST

अगली स्टोरी

इंग्लैंड दूसरे टेस्ट में भी हार के कगार पर

इंग्लैंड दूसरे टेस्ट में भी हार के कगार पर

इंग्लैंड की टीम रविवार को पूरे दिन क्रीज पर टिके रहने में सफल रही लेकिन वह एडिलेड ओवल में में दूसरे एशेज टेस्ट के अंतिम दिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एक और करारी शिकस्त की कगार पर है।

ऑस्ट्रेलिया को पांच टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-0 से बढ़त बनाने से रोकने के लिए इंग्लैंड को अंतिम दो दिन में जीत के लिए 531 रन का लक्ष्य मिला। इंग्लैंड के अब केवल चार विकेट बाकी हैं और कल पांचवें दिन का खेल बाकी है। उसके पास कोई अग्रणी बल्लेबाज मौजूद नहीं है जबकि अंतिम दिन बारिश की भी संभावना है। आस्ट्रेलिया ने अपनी दूसरी पारी कल के स्कोर तीन विकेट पर 132 रन पर समाप्त घोषित कर दी थी।

चौथे दिन का खेल समाप्त होने तक इंग्लैंड का स्कोर छह विकेट पर 247 रन रहा। मैट प्रायर 31 और स्टुअर्ट ब्राड 22 रन बनाकर क्रीज पर बने हुए हैं। टीम अब भी आस्ट्रेलिया से 284 रन से पीछे है। इंग्लैंड ने सीरीज में चार पारियों में पहली बार 200 रन का स्कोर पूरा किया, जो उनके लिए थोड़ी खुशी की बात थी लेकिन टीम हार की कगार पर है। उसे गाबा में पहले टेस्ट में 381 रन की करारी शिकस्त का मुंह देखना पड़ा था।

जोनाथन ट्राट द्वारा खाली हुए तीसरे नंबर पर जो रूट को भेजा गया, जिन्होंने काफी जज्बा दिखाया और 267 मिनट तक क्रीज पर डटे रहे। उन्होंने 87 रन की पारी खेली जबकि केविन पीटरसन ने 99 गेंदों में 53 रन का योगदान दिया। अपना पहला टेस्ट खेल रहे बेन स्टोक्स भी 90 गेंद खेले, लेकिन जब छह ओवर का खेल बचा था, वह 28 रन के निजी स्कोर पर रेयान हैरिस की गेंद पर दूसरी स्लिप में कैच दे बैठे। रूट इन दुर्भाग्यपूर्ण हालात में अपने तीसरे टेस्ट शतक से चूक गए।

स्पिनर नाथन लियोन की गेंद जो रूट के बल्ले का अंदरूनी किनारा लेकर विकेटकीपर ब्रैड हैडिन के दस्तानों में गई। यह हैडिन का 200वां टेस्ट कैच भी था। यार्कशर के इस युवा क्रिकेटर ने काफी जज्बा दिखाया और अपनी 194 गेंद की पारी में नौ चौके जमाए। वह दूसरी पारी के दूसरे ओवर में तब बल्लेबाजी के लिए उतरे थे, जब टीम का स्कोर एक विकेट पर एक रन था।

पीटर सिडल ने पीटरसन (53 रन) को बोल्ड कर ऑस्ट्रेलिया को महत्वपूर्ण सफलता दिलाई, जिससे इंग्लैंड की इस सीरीज में पहली शतकीय साझेदारी खत्म हो गई। चाय से कुछ समय पहले इयान बेल कामचलाऊ लेग स्पिनर स्टीवन स्मिथ की गेंद का सही आकलन नहीं लगा पाए और छह रन के निजी स्कोर पर पवेलियन लौट गए।
 
पीटरसन ने जो रूट के साथ तीसरे विकेट के लिए 111 रन की साझेदारी कर ली थी। इससे पहले इंग्लैंड ने सुबह के सत्र में सलामी बल्लेबाज एलिस्टेयर कुक और माइकल कारबेरी के विकेट सस्ते में गंवा दिए थे। ऑस्ट्रेलिया के लिए पीटरसन का विकेट काफी बड़ा रहा, जिन्होंने इस मैदान पर पिछले दो एशेज टेस्ट में 227 और 158 रन बनाए थे।

सिडल ने टेस्ट मैचों में नौंवी बार पीटरसन का विकेट झटका, जो इस मैच में दूसरी बार था। सीनियर बल्लेबाज बेल (6) स्टीवन स्मिथ की फुल टॉस गेंद पर मिड आन में मिशेल जानसन को कैच देकर पवेलियन पहुंचे। उन्होंने इंग्लैंड की 172 रन की पहली पारी में नाबाद 72 रन बनाए थे।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:इंग्लैंड दूसरे टेस्ट में भी हार के कगार पर