अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पुलिस व नक्सलियों में मुठभेड़, दो ढेर

पुलिस और नक्सली संगठन पीएलएफआई के बीच शनिवार को तड़के चार बजे रनिया थाना क्षेत्र के कोयलागाढ़ा जंगल में मुठभेड़ हुई जिसग्में दो ढेर हो गए । दोनों तरफ से लगभग 300 राउंड गोलियां चलायी गयी। गोलीबारी में सीआरपीएफ 133 बटालियन जी कंपनी के इंस्पेक्टर संजय कुमार घायल हो गये। उनके बायें बांह में गोली लगी है। उन्हें हेलीकॉप्टर से इलाज के लिए रांची ले जाया गया। बहरहाल रांची के अपोलो अस्पताल में उनका इलाज चल रहा है। उनकीस्थिति में सुधार है।ड्ढr ड्ढr शनिवार की शाम खूंटी में एसपी प्रभात कुमार ने पत्रकारों को बताया कि पुलिस ने मुठभेड़ में सालमन होरो नामक नक्सली (चलांगा लापुंग निवासी) को मार गिराया। दो अपराधी जरिया निवासी दुर्गा सिंह और पेसोम निवासी नीलू उर्फ छोटू तोपना को पुलिस ने खदेड़ कर पकड़ा। इनमें से एक के कनपटी से रगड़ खाती हुई गोली निकल गयी थी, जिसका बाद में पुलिस ने इलाज कराया। एसपी तथा कमांडेट बीके शर्मा ने पत्रकारों को बताया कि मुठभेड़ में गोली लगने के बावजूद जोगी उरांव तथा बसंत यादव नामक दो नक्सली भाग निकलने में सफल रहे। एसपी के अनुसार कोयलागाढ़ा टीले के अगल-बगल में बस्ती होने के कारण पुलिस ग्रेनेट का प्रयोग नहीं कर सकी। इस कारण नक्सली भाग निकलने में सफल रहे। कमांडेट ने बताया कि मृत नक्सली के पास से 12 तबकि दूसरी जगहों से 8 गोलियां जब्त की गयी। घटनास्थल से पुलिस ने10 हाार नगद, दो नाइन एमएम पिस्टल, 4 मैगजीन, 2 बोल्ट एक्शन रायफल, एसएलआर की 48 गोलियां, एक बिंडोलिया के साथ 12 गोलियां, पिस्तौल रखने वाला बैग, दो सेट वर्दी, लैंड माइंस में प्रयोग किये जानेवाला एक्सप्लोसिव बुस्टर, 3 मोबाइल तथा चार्जर, पीएलएफआई के पर्चे व दस्तावेज भी जब्त किये। एसपी के अनुसार शुक्रवार की रात ढाई बजे से लगभग 6 घंटे तक उनकी मुठभेड़ चली। भाग निकलने में सफल रहे नक्सली पहले एमसीसी में थे, जो अब पीएलफआई के सक्रिय सदस्य हैं।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: पुलिस व नक्सलियों में मुठभेड़, दो ढेर