अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

जी-8 में तिब्बत मुद्दा उठाने की मांग

विश्व के सबसे धनी आठ देशों के समूह जी-8 के नेताओं से आग्रह किया गया है कि वह जापान शिखर सम्मेलन के दौरान तिब्बत मुद्दे को चीन के राष्ट्रपति हू जिंताओ के सामने उठाएं। तिब्बत के लिए अंतर्राष्ट्रीय अभियान के उपाध्यक्ष मेरी बेथ मर्की ने कहा कि चीनी अधिकारियों और दलाई लामा के दूतों के बीच हाल में हुई वार्ता अंतर्राष्ट्रीय समुदाय की आशाओं से मेल नहीं खाती है। हू जिंताओ जी-8 देशों के शिखर सम्मेलन के दौरान जलवायु परिवर्तन और अन्य आर्थिक मुद्दों पर चर्चा के लिए जापान जा रहे हैं। दलाई लामा के विशेष दूत लोदी ग्यालत्सेन ग्यारी ने कहा है कि पिछले हफ्ते बीजिंग में चीन के अधिकारियों के साथ वार्ता का दौर काफी निराशाजनक और कठिन रहा। उनका मानना है कि वार्ता में कोई प्रगति नहीं हुई है। शनिवार को भारत लौटे ग्यारी ने वार्ता के बारे में तिब्बत के धार्मिक नेता दलाई लामा को अवगत करा दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: जी-8 में तिब्बत मुद्दा उठाने की मांग