DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

भ्रष्ट देशों की सूची में भारत 94वें स्थान पर

भ्रष्ट देशों की सूची में भारत 94वें स्थान पर

भारत दुनिया के सबसे अधिक भ्रष्ट देशों की सूची में 94वें स्थान पर है। सबसे साफ छवि के देशों में डेनमार्क व न्यूजीलैंड हैं, जबकि सोमालिया सबसे भ्रष्ट देश के रूप में उभरा है। हालांकि, पिछले साल की तुलना में इस सूची में भारत के स्थान में बदलाव नहीं हुआ है, लेकिन ब्रिक्स :ब्राजील, रूस, भारत, चीन व दक्षिण अफ्रीका: देशों के बीच भारत की स्थिति खराब हुई है। भ्रष्टाचार के मामले में चीन (80वें), दक्षिण अफ्रीका और ब्राजील (दोनों 72वें) स्थान पर भारत से बेहतर स्थिति में है। वहीं रूस की तुलना में भारत की स्थिति बेहतर है। रूस इस सूची में 127वें स्थान पर है। 177 देशों की यह सालाना सूची ट्रांसपेरेंसी इंटरनेशनल ने तैयार की है।

सूची के अनुसार, शून्य से 100 के मापक पर भारत ने 36 अंक अर्जित किए हैं। शून्य अंक का मतलब है कि कोई भी देश बेहद भ्रष्ट है, जबकि 100 अंक का मतलब है कि कोई देश बेहद साफ सुथरा है। हालांकि, कोई भी देश 100 अंक हासिल करने में सफल नहीं रहा। शीर्ष पर रहने वाले डेनमार्क व न्यूजीलैंड दोनों को 91-91 अंक मिले। वहीं सोमालिया, दक्षिण कोरिया व अफगानिस्तान के साथ सबसे भ्रष्ट देशों में है। इन तीनों देशों को मात्र 8 अंक हासिल हुए। इन तीन देशों से कुछ अच्छा प्रदर्शन करने वाले देशों में सूडान, लीबिया, इराक, उज्बेकिस्तान, सीरिया, हैती, वेनेजुएला, जिम्बाब्वे तथा म्यांमा हैं।

वहीं भ्रष्टाचार के मामले में साफ सुथरे देशों में डेनमार्क व न्यूजीलैंड के बाद फिनलैंड, स्वीडन, नॉर्वे, सिंगापुर, स्विट्जरलैंड, नीदरलैंड, ऑस्ट्रेलिया व कनाडा शीर्ष दस में शामिल हैं। अन्य प्रमुख देशों में जर्मनी 12वें, ब्रिटेन 14वें, हांगकांग 15वें, जापान 18वें और अमेरिका 19वें स्थान पर हैं।

भारत का प्रदर्शन पड़ोसी देश पाकिस्तान (127), थाइलैंड (102), मेक्सिको (106), मिस्र (114), नेपाल (116), वियतनाम (116), बांग्लादेश (136) व ईरान (144) से बेहतर रहा है। इन 177 देशों में से दो-तिहाई 50 से कम अंक हासिल कर पाए। यह सबसे भ्रष्ट व सबसे स्वच्छ देश के बीच का बिंदु है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:भ्रष्ट देशों की सूची में भारत 94वें स्थान पर