अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

काबुल में भारतीय दूतावास पर हमला, 44 मरे

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल मंे सोमवार तड़के भारतीय दूतावास के प्रवेशद्वार के बाहर जिस भीषण आत्मघाती हमले में 44 लोग मारे गए और सैंकड़ों घायल हो गए, उसका निशाना संभवत: भारतीय दूतावास ही था। हमले में मरने वालों में चार भारतीय भी हैं। भारत ने इस ‘कायराना आतंकवादी हमले’ की कड़े शब्दों में निंदा की है। अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि इस हमले से सौ से ज्यादा लोग हताहत हुए हैं। बयान के मुताबिक शुरुआती जांच से संकेत मिले हैं कि यह हमला भारतीय दूतावास को ही निशाना बनाकर किया गया। बयान के मुताबिक आतंकवादियों ने कुछ गुप्त एजेंसियों के साथ मिलकर इस हमले को अंजाम दिया। अफगानिस्तान के गृह मंत्रालय के सूत्रों ने बताया कि वर्ष 2001 में तालिबान के पतन के बाद के इससे सबसे शक्तिशाली हमला है। इसकी जिम्मेदारी अभी तक किसी भी संगठन ने नहीं ली है। एक अधिकारी ने बताया कि मरने वालों में ज्यादातर नागरिक हैं जिनमें महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने हताहतों में भारतीयों के भी शामिल होने की पुष्टि करते हुए कहा है सुबह करीब साढ़े आठ बजे जब दूतावास के मुख्यद्वार पर इस हमले को अंजाम दिया गया ,उस समय दूतावास के अधिकारी परिसर में दाखिल हो रहे थे। इसबीच, नई दिल्ली में विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नवतेज सरना ने कहा है, ‘‘भारत सरकार अफगानिस्तान में अपने दूतावास पर हुए आतंकवादियों के इस कायराना हमले की कड़े शब्दों में निंदा करती है। ऐसे हमले हमें अफगानिस्तान सरकार और वहां की जनता से किए गए हमारे वायदों को पूरा करने से नहीं रोक सकते’’। उन्होंने कहा कि सरकार राजदूत जयंत प्रसाद के साथ संपर्क बनाए हुए है, जो घायलों को मुहैया कराई जा रही स्वास्थ्य सुविधाओं की निगरानी कर रहे हैं। हमले में मारे गए चार भारतीयों में दो राजनयिक और दो सुरक्षाकर्मी हैं। रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया कि हमले में मारे गए भारतीयों के पार्थिव शरीर लाने के लिए भारतीय वायुसेना का आईएल-76 विमान जल्द ही काबुल रवाना होगा। समाचार एजेंसी डीपीए के अनुसार, गृहमंत्रालय के एक प्रवक्ता ने घटना की पुष्टि करते हुए कहा है कि अमेरिकी सुरक्षा बल हालात से निपटने में मदद कर रहे हैं। अफगानिस्तान में पिछले वर्ष 140 से ज्यादा आत्मघाती हमले हुए थे और करीब 8000 लोग मारे गए थे।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: काबुल में भारतीय दूतावास पर हमला, 44 मरे