DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

घाटी की आग

ाम्मू-कश्मीर के मुख्यमंत्री गुलाम नबी आजाद के इस्तीफे में ऐसा कुछ नहीं है जो भारतीय सियासत के मौजूदा मिजाज के हिसाब से अजूबा हो। राज्यों में ऐसी बातें आएदिन होती रहती हैं, लेकिन यही राजनीति जब जम्मू-कश्मीर में खेली जाती है तो हमार माथे पर बल पड़ते हैं। यह सूबा भारत ही नहीं दुनिया की चंद ऐसी प्रयोगशालाओं में है जहां अलगाववादी सांप्रदायिकता को धर्मनिरपेक्ष लोकतंत्र से जीतने की कोशिश हो रही है। यह ठीक है कि वहां फौा भी तैनात है लेकिन अंतिम सोच यही है कि हम वहां आतंकवाद का मुकाबला वोटों की ताकत से करंगे। इसलिए लोकतंत्र के ढेर सार वात, कफ , पित्त को हम दूसर राज्यों में भले ही बिना पलक झपकाए स्वीकार कर लें, लेकिन जम्मू-कश्मीर के मामले में हमें ये नागवार गुजरते हैं। वहां हम सभी राजनैतिक दलों से ऐसे आचरण की उम्मीद करते हैं, जो आतंकवादियों की क्लाशनिकोव में बारूद डालने का काम न कर। एक लिहाज से देखें तो सरकार के इस्तीफे में कोई बड़ी बात नहीं है। उसका कार्यकाल खत्म हो ही चुका है और नए चुनाव की तैयारियां चल रही हैं। समस्या दरअसल इस चुनाव के मद्देनजर खेली जा रही उस राजनीति से है, जो आखिर में सभी के लिए समस्या बनेगी। अमरनाथ बोर्ड को वन विभाग की जमीन दिए जाने के मसले को राज्य के राजनैतिक दलों ने जिस तरह से सांप्रदायिक रंग दिया और कुछ दूसर दलों ने इसकी आग में पूर देश को झुलसाने का काम किया, वह सचमुच परशान करने वाला है। होना तो यह चाहिए था कि जम्मू-कश्मीर के चुनाव को किसी भी तरह से सांप्रदायिक रंग न दिया जाए। और देश के आम चुनाव में जम्मू-कश्मीर को एक सांप्रदायिक समस्या के रूप में पेश न किया जाए, लेकिन जिस राज्य सरकार को जाना ही था, उसे इस मसले पर गिरा कर तनाव की एक नई भूमिका लिख दी गई है। दूसरी तरफ आम चुनाव की समय पूर्व तैयारी करने वालों ने इस मसले पर अमृतसर से इंदौर तक सड़कें, ट्रेनें रोक कर ईंट का जवाब पत्थर से देने की अपनी मंशा साफ कर दी है। जो हुआ है, वह कांग्रेस के लिए नई परशानियों का सबब बनेगा। कांग्रेस के हाथ से फिसलते राज्यों में अब जम्मू-कश्मीर का नाम भी जुड़ गया है। उसके साथ मिलकर सरकार चला रही मुफ्ती मुहम्मद सईद की पीडीपी ने ऐन चुनाव के वक्त उसकी और अपनी नाकामियों से पल्ला झाड़कर कांग्रेस को कटघर में खड़ा कर दिया है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: घाटी की आग