DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

उम्रदराज अभिनेत्रियों के लिए पटकथा नहीं मौजूद : शर्मिला

उम्रदराज अभिनेत्रियों के लिए पटकथा नहीं मौजूद : शर्मिला

बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री शर्मिला टैगोर का कहना है कि उम्रदराज अभिनेत्रियों के लिए पटकथायें नहीं लिखी जाती हैं इसलिए वह फिल्मों में काम नहीं कर रही हैं।
       
शर्मिला टैगोर ने कहा कि फिल्म इंडस्ट्री में आज भी अभिनेताओं का दबदबा है और उनके लिए पटकथायें लिखी जाती हैं। अमिताभ बच्चन, नसीरउद्दीन शाह और अनुपम खेर जैसे उम्रदराज कलाकारों के लिए विशेष
रूप से पटकथायें लिखी जाती है लेकिन उम्रदराज अभिनेत्रियों के लिए ऐसी बात नहीं होती है।
       
शर्मिला टैगोर ने कहा कि मेरी जैसी अभिनेत्रियों के लिए आज पटकथा नहीं लिखी जाती है इसलिए फिल्मों में काम नहीं करती हूं। उल्लेखनीय है कि शर्मिला टैगोर ने वर्ष 1964 में प्रदर्शित 'कश्मीर की कली' से अपने करियर की शुरुआत की थी। शर्मिला टैगोर ने 'अनुपमा', 'अराधना', 'अमरप्रेम', 'मौसम', 'नमकीन' समेत कई फिल्मों में काम किया है जिनमें उनकी भूमिका प्रभावशाली रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:उम्रदराज अभिनेत्रियों के लिए पटकथा नहीं मौजूद : शर्मिला