DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

अब बीएमए भी चला रामदास की राह पर

भारत क केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री अंबुमणि रामदास की तर्ज पर ही ब्रिटन क चिकित्सकों न फिल्मों मं कलाकारों द्वारा धूम्रपान क दृश्यों पर रोक लगान की मांग की है। ब्रिटिश मडिकल एसोसिएशन (बीएमए) का कहना है कि फिल्मों मं धूम्रपान पर भी उसी तरह रोक लगनी चाहिए जिस तरह स अत्यधिक हिंसा और सक्स वाल दृश्यों पर प्रतिबंध लगाया जाता है। बीएमए का यह भी कहना है कि मीडिया द्वारा धूम्रपान को दिए जा रह बढ़ाव पर भी रोक लगानी चाहिए। एसोसिएशन ब्रिटन सरकार स अगल सप्ताह एडिनबर्ग मं होन वाली अपनी वार्षिक बैठक मं 2035 तक दश को धूम्रपान मुक्त बनान पर बल दगी। बीएमए क प्रमुख विविएन नैथनसन न कहा कि धूम्रपान आजकल सफलता का प्रतीक माना जा रहा है। फिल्मों मं धूम्रपान क दृश्यों स किशोर काफी प्रभावित होत हैं। उन्होंन कहा कि हॉलीवुड स्टार कट मॉस और एमी वाइनहाउस की धूम्रपान करती तस्वीरों क बजाए बिना धूम्रपान वाली तस्वीरं दिखानी चाहिए। गौरतलब है कि 10 स 10 क बीच फिल्मों मं धूम्रपान क दृश्यों मं कमी आई, लकिन इसक बाद इसमं काफी क्षाफा हुआ है। सन् 1मं बनी हालीवुड फिल्म ‘पल्प फिक्शन’ मं अभिनत्री उमा थर्मन की धूम्रपान करती हुई तस्वीर आई थी जो सिगरट कंपिनयों क लिए एक उपहार जसी थी। बीएमए न बताया कि अमरिका मं सन् 2002 क बाद फिल्मों मं धूम्रपान क दृश्य बढ़ हैं जिसस किशारों पर इसका बुरा प्रभाव पड़ा है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: अब बीएमए भी चला रामदास की राह पर