DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

कोसी में पोलियो के खिलाफ कमजोर हुई जंग

वर्षो तक लगातार अभियान चलाने के बाद भी कोसी क्षेत्र में पोलियो वायरस के खिलाफ छेड़ी गयी जंग कमजोर पड़ती दिख रही है। इस क्षेत्र में पी-3 वायरस का एक्िटव होना डब्लूएचओ और यूनिसेफ के लिए गंभीर चिंता का विषय बन गया है। पोलियो वायरस के खिलाफ छिड़ी जंग के बीच पी-3 वायरस कोसी में तेजी से पांव पसार रहा है।ड्ढr ड्ढr वर्ष 2007 में सहरसा, सुपौल और मधेपुरा जिलों में पोलियो खुराक लेने के बाद 36 बच्चे पी-3 वायरस की गिरफ्त में आये। 2008 के पहले छह महीने में ही कोसी प्रमंडल के तीनों जिलों में 27 और नए मामले सामने आए हैं। हालांकि पी-1 वायरस का पहले, छमाही में एक भी नया केस नहीं मिला है, जबकि पिछले वर्ष (2007) पी-1 वायरस ने 15 बच्चों को अपनी गिरफ्त में लिया। इनमें सहरसा और मधेपुरा में 7-7 और एक केस सुपौल जिले में मिला। वहीं बीते वर्ष पी-3 के अकेले 27 केस सहरसा में, 1 मधेपुरा और 8 सुपौल में पाया गया। विश्व स्वास्थ्य संगठन से जुड़े सर्विलेंस मेडिकल ऑफिसर डा. अरूण कुमार ने पूछने पर बताया कि अभी पी-1 वायरस खात्मे के लिए राउण्ड चल रहा है। उन्होंने कहा कि 2008 के पहले छमाही तक पी-1 का नया केस नहीं मिलना राहत वाली बात है। हालांकि उन्होंने पी-3 के केस में बढ़ोतरी को चिंताजनक बताया। बिहार में पी-1 का एकमात्र केस सारण में आया है जबकि सम्पूर्ण भारत में 5 नया केस मिला है। कोसी क्षेत्र में 1से पोलियो वायरस के खिलाफ जंग की शुरूआत हुई। सरकार ने अपनी पूरी मिशनरी को पोलियो उन्मूलन कार्य में लगाने का दावा किया है। डब्लूएचओ और यूनिसेफ इसका मोनिटरिंग कर रहा है। बावजूद इसके सघन अभियान चलाने का संकल्प कहीं न कहीं कमजोर पड़ता दिख रहा है। दुष्कर्म के आरोपितों पर चलीं गोलियांड्ढr मुंगेर (न.सं.)। सोमवार की दोपहर नया रामनगर थाना क्षेत्र के चंदनपुरा में युवती के साथ दुष्कर्म के मामले में उत्तेजित परिानों ने आरोपियों पर गोलियां चलाई, जिसमें एक गोली आरोपियों की मां आभा देवी पेसर आजाद सिंह को बाएं सीने में जा लगी। महिला को सदर अस्पताल लाया गया, जहां उनके गंभीरावस्था को देखते हुए उन्हें पटना रफर कर दिया गया। घायल आभा देवी के बयान पर युवती के भाई के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई है तो दुष्कर्म की शिकार पूजा (काल्पनिक नाम) के बयान पर महिला के पुत्रों के विरुद्ध नामजद प्राथमिकी दर्ज की गई। थानाध्यक्ष मनोज महतो ने बताया कि चंदनपुरा निवासी पूजा ने आजाद सिंह के दो पुत्रों सुमन कुमार एवं धनराज सिंह के विरुद्ध दुष्कर्म की प्राथमिकी दर्ज कराई है, जिसमें उन्होंने कहा है कि रात में सोये अवस्था में दोनों ने घर में प्रवेश कर किसी ठोस वस्तु से उनके सर पर प्रहार कर बेहोश कर दिया एवं बेहोशी की अवस्था में ही उनके साथ दुष्कर्म किया।ं

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title: कोसी में पोलियो के खिलाफ कमजोर हुई जंग